scorecardresearch
 

जाट आंदोलन: हुड्डा के पूर्व सलाहकार पर राजद्रोह का केस, हिंसा भड़काने का आरोप

रोहतक में दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा गया है कि विरेंदर ने खाप नेता को फोन करके सिरसा में हिंसा भड़काने के लिए कहा था. इस बातचीत का ऑडियो लीक हो गया, जिसके बाद राज्य की सियासत गरमा गई.

जाट आंदोलन के दौरान भड़की हिंसा पर अब हरियाणा में सियासी उबाल दिखने लगा है. पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा राजनीतिक सलाहकार रहे प्रो. विरेंदर के खिलाफ हिंसा के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई गई है. विरेंद्र समेत 9 लोगों पर राजद्रोह के आरोप पर केस दर्ज किया गया है.

रोहतक में दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा गया है कि विरेंदर ने खाप नेता को फोन करके सिरसा में हिंसा भड़काने के लिए कहा था. इस बातचीत का ऑडियो लीक हो गया, जिसके बाद राज्य की सियासत गरमा गई. सत्ताधारी बीजेपी और INLD ने आंदोलन को उकसाने में कांग्रेस का हाथ होने का शक भी जाहिर किया है.

अभय चौटाला ने लगाए आरोप
इसके पहले INLD नेता अभय चौटाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राज्य में जाट आंदोलन के दौरान हुई हिंसा पर खट्टर सरकार और कांग्रेस दोनों को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि हरियाणा के हालात से पैदा हुई खटास के लिए जहां सरकार जिम्मेदार है वहीं कांग्रेस भी जिम्मेदार है.

उन्होंने कहा, 'प्रो. वीरेंद्र पर एफआईआर दर्ज है तो हुड्डा के खिलाफ भी केस दर्ज होना चाहिए, क्योंकि दंगों के पीछे हुड्डा का ही हाथ है. प्रदेश के हालात इतने खराब हो गए हैं कि लोग मुख्यमंत्री का भी विरोध कर रहे हैं.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें