scorecardresearch
 

गुजरात: कोर्ट परिसर में घुसा तेंदुआ, रेस्क्यू में लग गए 5 घंटे

सुरेन्द्रनगर के चोटिला की कोर्ट में शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे तेंदुआ घुस आया और कोर्ट रूम में पहुंच गया. जिसके बाद लोगों ने बाहर से गेट बंद कर दिया. इस दौरान कमरे में दो लोग मौजूद थे.

सुबह करीब 11 बजे से शाम 4 बजे तक चला रेस्क्यू ऑपरेशन सुबह करीब 11 बजे से शाम 4 बजे तक चला रेस्क्यू ऑपरेशन

गुजरात के सुरेन्द्रनगर के चोटिला की कोर्ट में शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे जब कोर्ट शुरू हो रही थी उसी वक्त एक तेंदुआ घुस आया. कोर्ट परिसर में घुसे तेंदुए से जहां कोर्ट में अफरातफरी मच गई तो वहीं तेंदुआ भी डर गया और एक कोर्ट रूम में जा घुसा. हालांकि तब ही कुछ लोगों ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया.

तेंदुए को कोर्ट रूम में बंद कर दिया लेकिन उस समय दो लोग कमरे में ही मौजूद थे. दोनों को निकालने के लिए खिड़की तोड़ी गई और उन्हें बाहर निकाला गया. तेंदुए के कोर्ट में आने के बाद तुंरत ही वनविभाग को इस की जानकारी दी गई. वनविभाग की टीम यहां समय से पहुंच गई. पहले तेंदुए को गन से इंजेक्शन दिया गया जिससे वह बेहोश हो गया बाद में उसे बाहर निकाल कर पिंजरे में बंद किया गया. ये रेस्क्यू ऑपरेशन सुबह करीब 11 बजे से शाम 4 बजे तक चला.

तेंदुआ वहां कैसे आया लोग यह बात समझ नहीं पा रहे थे क्योंकि चोटिला ऐसा इलाका है जहां आसपास ना तो कोई वनक्षेत्र है और ना ही किसी तरह का कोई जंगल, ऐसे में तेंदुए के वहां आ जाने से लोग काफी डर गए.

बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही गुजरात में बेहद सख्त सुरक्षा वाले सचिवालय में एक तेंदुआ बैरीकेडिंग के नीचे से अंदर घुस आया था. सुरक्षाकर्मियों को सचिवालय में तेंदुए के घुसने की खबर मिली तो सभी के होश उड़ गए. तेंदुआ सीसीटीवी में कैद हो गया था, जिसे देखकर पहले सुरक्षाकर्मियों को लगा कि कोई कुत्ता घुस आया है लेकिन ध्यान से देखने पर पता चला कि वह तेंदुआ है. तमाम कोशिशों के बाद बाद तेंदुए को पकड़ा गया. तेंदुए के निकल जाने के वनविभाग के दावे के बाद कर्मचारियों को सचिवालय में एंट्री दी गई.   

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें