scorecardresearch
 

कांग्रेस की सीट बचाने को गुजरात में BJP के खिलाफ उपचुनाव में उतारे सिद्धू

सिद्धू ने कहा कि 2012 में मोदी जब यहां प्रचार करने के लिए आए थे तो कपास के दाम पर कहते थे कि 1200 प्रति क्विंटल दाम देखकर उनका दिल जलता है, मोदी अब प्रधानमंत्री बन गए हैं तो कपास की कीमत 800 रुपये क्विंटल दे रहे हैं.

फोटो- आजतक फोटो- आजतक

गुजरात के जशदन विधानसभा उपचुनाव के लिये मंगलवार को चुनाव प्रचार थम गया. प्रचार के आखिरी दिन इस एक सीट पर कांग्रेस की ओर से प्रचार के लिए नवजोत सिंह सिद्धू आए. यहां पर 20 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे, जबकि वोटों की गिनती 23 दिसंबर को होगी. प्रचार के आखिरी दिन गुजरात बीजेपी के अध्यक्ष जीतू वघानी ने एक विशाल बाइक रैली निकाली, वहीं कांग्रेस ने नवजोत सिंह सिद्धु को चुनाव प्रचार में उतारा.

हालांकि मंगलवार को प्रचार का आखिरी दिन था, लेकिन सिद्धू ने अपने चुनावी तीरों से समां बांध दिया. सिद्धू ने कहा कि अबतक ये कांग्रेस की सीट थी, 2012 में मोदी जब यहां प्रचार करने के लिए आए थे तो कपास के दाम पर कहते थे कि 1200 प्रति क्विंटल दाम देखकर उनका दिल जलता है, मोदी अब प्रधानमंत्री बन गए हैं तो कपास की कीमत 800 रुपये क्विंटल दे रहे हैं. सिद्धू ने कहा कि जब यूपीए की सरकार थी तो मूंगफली के दाम 1400 रुपये थे और आज ये कीमत 600 रुपये पहुंच गई है.

सिद्धू ने किसानों की कर्जमाफी का मुद्दा भी उठाया. सिद्धू ने कहा कि 22 साल से गुजरात में मोदी की सरकार थी, लेकिन किसान का कर्ज माफ नहीं किया गया, लेकिन मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी और महज 22 मिनट में किसान का कर्ज माफ कर दिया गया.

सिद्धू ने नोटबंदी ओर जीएसटी को लेकर भी सरकार पर हमला बोला. सिद्धू ने कहा कि हमेशा बड़े नोट बंद होते हैं लेकिन मोदी सरकार ने तो 500-1000 के नोट को बंद कर 2000 हजार के नोट निकाल दिए. सिद्धू ने कहा कि नोटबंदी से बड़ा स्कैम इस देश में अबतक नहीं हुआ है.

इससे पहले मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के चुनाव प्रचार में नवजोत सिंह सिद्धू ने जोरदार प्रचार कर दिया था. पाकिस्तान के दौरे से लौटे सिद्धू इन तीनों राज्यों में अपनी चुनावी रैलियों में काफी भीड़ खींच लाए थे.

बता दें कि जशदन का उपचुनाव बेहद दिलचस्प है. इस बार यहां से बीजेपी कैंडिडेट कुंवरजी बावलिया कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतते आए हैं. जुलाई में कुंवरजी बावलिया ने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी ज्वाइन कर ली थी. इसके बाद यहां चुनाव हो रहे हैं. इस बार कुंवरजी बावलिया बीजेपी के टिकट पर अपने लिए वोट मांग रहे हैं. वहीं कांग्रेस ने कुंवरजी के ही राजनीतिक शिष्य और जशदन में ऑटो चलाने वाले अवसर नाकिया को टिकट दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें