scorecardresearch
 

गुजरात: पतंगबाजी पर रहेगी पुलिस की नजर, मकर संक्रांति को लेकर नई गाइडलाइन

गुजरातियों के सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक उत्तरायण (मकर संक्रांति) पर होने वाली पतंगबाजी पर इस बार कोरोना का ग्रहण लग गया है. गुजरात में लोग मकर संक्राति के मौक पर अपनी छतों पर पतंगबाजी करते हैं. लेकिन इस बार कोरोना की वजह से गुजरात सरकार ने नए दिशा निर्देश जारी कर भीड़ इकट्ठा नहीं होने देने का आदेश दिया है.

 मकर संक्रांति पर पुलिस रखेगी नजर मकर संक्रांति पर पुलिस रखेगी नजर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मकर संक्रांति पर एक्शन मोड में गुजरात पुलिस
  • कोविड नियमों का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई
  • शहर के 250 पॉइंट पर तैनात रहेगी पुलिस

गुजरात के महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक उत्तरायण (मकर संक्रांति) पर लोग पतंगबाजी का बड़ा ही आनंद लेते हैं. लेकिन इस बार उत्तरायण पर भी कोरोना का ग्रहण लग गया है. लोग मकर संक्राति के मौक पर एक साथ इकट्ठा होकर छतों पर पतंगबाजी करते हैं. हालांकि, पतंगबाजी के लिए अहमदाबाद सबकी पंसदीदा जगह है. लेकिन इस बार कोरोना की वजह से राज्य सरकार ने नए दिशा निर्देश जारी कर भीड़ इकट्ठा नहीं करने का आदेश दिया है.

निर्देश में कहा गया है कि पतंगबाजी के दौरान अहमदाबाद में पुलिस छतों पर नजर रखेगी. उत्तरायण के मौके पर पतंगबाजी के दौरान छतों पर कोविड दिशानिर्देश का पालन सही ढंग से हो इसके लिए 50 ड्रोन के जरिए वीडियो ग्राफी होगी. इतना ही नहीं शहर के अलग-अलग हिस्सों में 250 पॉइंट बनाए गए हैं जहां पुलिस तैनात रहेगी.

देखें आजतक LIVE TV

पुलिस ने प्वाइंट बनाने के लिए शहर की सबसे ऊंची इमारतों की पहचान कर ली है. गुजरात के पुलिस महानिदेशक आशीष भाटिया ने उत्तरायण को लेकर राज्य के सभी शीर्ष पुलिस अधिकारियों के साथ बीते दिनों एक वर्चुअल मीटिंग की थी. जिसमें निर्देश दिया गया था कि किसी भी स्थान पर लोगों की भीड़ जमा न हो. साथ ही उत्तरायण के जश्न में लोग कोरोना के नियमों का पालन करना ना भूल जाएं.

DGP के आदेश के बाद अहमदाबाद के सभी पुलिस स्टेशन क्षेत्रों में ड्रोन से वीडियोग्राफी की जाएगी. जिसमें अगर किसी सोसायटी या मकान पर जरूरत से ज्यादा लोगों मौजूद होंगे तो पुलिस ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. किसी सोसायटी या छत पर ज्यादा लोग जमा होते हैं या रिश्तेदारों को छत पर बुलाया जाता है तो सोसायटी या फ्लैट के चेयरमेन और सेक्रेटरी पर मामला दर्ज किया जाएगा.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें