scorecardresearch
 

अहमदाबाद: आज होगा गुलबर्ग सोसाइटी केस में करार दोषियों की सजा का ऐलान

कोर्ट ने 24 आरोपियों में से 11 आरोपियों को हत्या के लिए दोषी माना था. कोर्ट ने इस मामले में करार दोषियों को 6 जून को सजा का ऐलान करने की घोषणा की थी.

गुलबर्ग सोसाइटी केस में करार दोषियों की सजा का ऐलान गुलबर्ग सोसाइटी केस में करार दोषियों की सजा का ऐलान

गुजरात दंगो के 2002 के गुलबर्ग सोसायटी हत्याकांड मामले में सोमवार को अहमदाबाद कि स्पेशल कोर्ट में सजा का ऐलान किया जायेगा. गौरतलब है कि 2 जून को कोर्ट ने 24 आरोपियों को दोषी और 36 आरोपियों को निर्दोष घोषित किया था.

कोर्ट ने 24 आरोपियों में से 11 आरोपियों को हत्या के लिए दोषी माना था. कोर्ट ने इस मामले में करार दोषियों को 6 जून को सजा का ऐलान करने की घोषणा की थी.

2002 में हुआ था गुलबर्ग सोसायटी पर हमला
28 फरवरी 2002 को भड़की हिंसा के दौरान भीड़ ने गुलबर्ग सोसायटी पर हमला कर दिया था. इस हमले में 69 लोग मारे गए थे, जिनमें पूर्व कांग्रेस सांसद एहसान जाफरी भी शामिल थे. घटना के बाद 39 लोगों के शव बरामद किए गए थे जबकि सात साल बाद बाकी 30 लापता लोगों को मृत मान लिया गया था.

जाकिया जाफरी ने जताई थी असंतुष्टि
कोर्ट के फैसले पर एहसान जाफरी की पत्नी जाकिया जाफरी ने कहा था कि वह इससे संतुष्ट नहीं हैं. उन्हें इस मामले में अभी और जद्दोजहद करनी पड़ेगी. जाफरी ने कहा, 'मुझे आधा न्याय मिला है. ये लड़ाई जारी रखेंगे. 14 साल बाद फैसला आया है, 15 साल और लगेंगे.' उन्होंने कहा कि वह इस फैसले के खिलाफ ऊपरी अदालत में अपील करेंगी.

मामले में 338 लोगों की हुई थी गवाही
मामले की सुनवाई साल 2009 में शुरू हुई थी, जिसमें कुल 66 आरोपी थे. इनमें से चार की पहले ही मौत हो चुकी है. मामले की सुनवाई के दौरान 338 लोगों की गवाही हुई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें