scorecardresearch
 

जिस अफसर से थी AAP की रार, उसी को बना दिया केजरीवाल का 'सिपहसालार'

विजय कुमार देव को दिल्ली का मुख्य सचिव नियुक्त किया गया है, ये वहीं अधिकारी हैं जिनके साथ वोटर लिस्ट मामले में दिल्ली सरकार की अनबन चल रही है.

विजय देव, अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो) विजय देव, अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (CEO) विजय कुमार देव को अब राज्य का मुख्य सचिव नियुक्त किया गया है. शुक्रवार को विजय कुमार देव ने अंशु प्रकाश की जगह ली, वे सोमवार से अपना कामकाज संभालेंगे. बता दें कि पिछले काफी समय से अंशु प्रकाश के साथ दिल्ली सरकार की अनबन चल रही थी, जिसके बाद उनका ट्रांसफर कर दिया गया था.

क्या खत्म होगी रार?

हालांकि, क्या मुख्य सचिव बदल जाने से दिल्ली सरकार के साथ चल रही अनबन खत्म हो जाएगी अभी भी ये बड़ा सवाल बना हुआ है. क्योंकि आम आदमी पार्टी की सरकार ने पिछले दिनों फर्जी वोटिंग लिस्ट का मुद्दा उठाया था और चुनाव आयोग के साथ तू-तू मैं-मैं की थी. इस दौरान दिल्ली के चुनाव आयोग की जिम्मेदारी विजय कुमार देव के पास ही थी. यानी ऐसे में एक बार फिर मुख्य सचिव के पद पर वही व्यक्ति आया है, जिससे दिल्ली सरकार की पुरानी रार चल रही है.

कौन हैं विजय देव?

आपको बता दें कि विजय देव एजीएमयूटी कैडर के 1987 बैच के आइएएस अधिकारी हैं. इससे पहले वे दिल्ली में परिवहन निगम के चेयरमैन, दिल्ली के मंडलायुक्त के साथ अन्य भी अहम पदों पर रह चुके हैं.

टेलिकॉम डिपार्टमेंट भेजे गए अंशु प्रकाश

गौरतलब है कि पिछले दिनों दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी रहे अंशु प्रकाश को टेलिकॉम डिपार्टमेंट की जिम्मेदारी दी गई है. बता दें कि अंशु प्रकाश के साथ हुई कथित मारपीट के मामले के बाद से ही आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार के साथ काफी तल्ख रहे हैं.

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने बीते दिनों केंद्र सरकार पर आरोप लगाया था कि दिल्ली के लाखों लोगों का नाम वोटर लिस्ट से काट दिया गया है. उनका आरोप था कि ये सभी आम आदमी पार्टी के वोटर थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें