scorecardresearch
 

दिल्ली में आज से खोले गए धार्मिक स्थल, कोरोना गाइडलाइन का पालन जरूरी

दिल्ली में कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान कफी लोगों की जान गई थी. दिल्ली सरकार को कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए प्रदेश में लॉकडाउन लगाना पड़ा. जिसके बाद 19 अप्रैल से पांच महीने से अधिक समय तक सभी धार्मिक स्थल भक्तों के लिए बंद रहे. 

दिल्ली में खोले गए धार्मिक स्थल (फाइल फोटो) दिल्ली में खोले गए धार्मिक स्थल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में खोले गए धार्मिक स्थल
  • डीडीएमए ने जारी किए दिशानिर्देश

पिछले काफी दिनों से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों में तेजी नहीं देखी गई है. इसी के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने धार्मिक स्थलों को फिर से खोलने का फैसला लिया है. दिल्ली सरकार ने शुक्रवार से राष्ट्रीय राजधानी में धार्मिक स्थलों को श्रद्धालुओं के लिए फिर से खोलने की अनुमति दी है. हालांकि सभी श्रद्धालुओं को इस दौरान कोविड-19 दिशा-निर्देशों और मानक संचालन प्रक्रियाओं के सख्ती से पालन करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने गुरुवार को नए कोविड-19 दिशानिर्देश जारी किए.

दिल्ली में कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान कफी लोगों की जान गई थी. दिल्ली सरकार को कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए प्रदेश में लॉकडाउन लगाना पड़ा. जिसके बाद 19 अप्रैल से पांच महीने से अधिक समय तक सभी धार्मिक स्थल भक्तों के लिए बंद रहे. 

डीडीएमए ने अपने आदेश में धार्मिक स्थलों पर भक्तों के प्रवेश की अनुमति दी है, लेकिन वहां बड़ी संख्या में लोगों के जमा होने पर रोक है. डीडीएमए ने जिलाधिकारियों और पुलिस उपायुक्तों को आगामी त्योहारों के मद्देनजर कोविड-उपयुक्त व्यवहार का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया है. 

और पढ़ें- महाराष्ट्र में 7 अक्टूबर से खोल दिए जाएंगे मंदिर के द्वार, कोरोना नियमों का करना होगा सख्ती से पालन

प्राधिकरण ने अपने नए कोविड-19 दिशानिर्देशों में कहा है कि दिल्ली में त्योहारों के दौरान मेलों, खाने के स्टॉल, झूलों, रैलियों और जुलूस की अनुमति नहीं दी जाएगी. 

डीडीएमए ने आधिकारिक आदेश में कहा, ‘सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा की अनुमति नहीं दी जाएगी और लोगों को सलाह दी जाती है कि वे इसे अपने घरों में ही मनाएं. 'डीडीएमए ने जिन गतिविधियों की अनुमति दी है और जिन पर पाबंदियां लगाई हैं, उससे संबंधित आदेश 15 अक्टूबर की मध्यरात्रि तक प्रभावी रहेंगे. 
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें