scorecardresearch
 

दुश्मनों के लिए महाकाल है BSF, शहीदों की लिखी जानी चाहिए जीवनी: राजनाथ सिंह

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को BSF के 49वें स्थापना दिवस पर पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया. गृह मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान ने सीजफायर का लगातार उल्लंघन किया है, जबकि हमारे जवानों ने भी संयम बरतते हुए उसका मुंहतोड़ जबाव दिया.

X
बीएसएफ रेजिंग डे के दौरान राजनाथ सिंह बीएसएफ रेजिंग डे के दौरान राजनाथ सिंह

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को BSF के 49वें स्थापना दिवस पर पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया. गृह मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान ने सीजफायर का लगातार उल्लंघन किया है, जबकि हमारे जवानों ने भी संयम बरतते हुए उसका मुंहतोड़ जबाव दिया. BSF कर्मियों के योगदान को रखांकित करते हुए सिंह ने कहा कि जब कभी देश के स्वाभिमान को चोट लगती है, हमारे जवान महाकाल बनकर खड़े हो जाते हैं. उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है.

दिल्ली में आयोजित स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि बीएसएफ ने पाकिस्तान की हर हरकत का जबरदस्त तरीके से जवाब दिया है. शहीदों को नमन करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि आज हम उनकी वजह से ही अपने घरों में सुरक्षित बैठे हैं.

बीएसएफ के स्थापना दिवस पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, 'बीएसएफ और सेना के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता. शहीदों का जीवन परिचय लिखा जाना चाहिए. मैं वादा करता हूं कि जवानों की समस्याओं को सुलझाने की भरपूर कोशि‍श करूंगा. मैं जानता हूं कि असुविधाओं से आपको जूझना पड़ता है.'

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि बीएसएफ का इतिहास और योगदान बहुत महत्वपूर्ण रहा है. जब कभी कोई देश के स्वाभि‍मान को चोट पहुंचाने की कोशि‍श करता है, हमारे जवान महाकाल बनकर खड़े हो जाते हैं. राष्ट्रीय स्वाभि‍मान के लिए अगर कोई सबसे अधि‍क चिंतित है तो वह हमारे सेना के जवान हैं.

इससे पहले पूर्वोत्तर राज्यों के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्विटर पर बीएसएफ कर्मियों को सलाम करते हुए स्थापना दिवस पर शुभकामनाएं दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें