scorecardresearch
 

MCD चुनाव: बीजेपी अब रोज़ लिखेगी केजरीवाल का एक झूठ

दिल्ली बीजेपी चुनावी मोड में है और निशाना दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं. केजरीवाल पर निशाना साधने के लिए बीजेपी ने एक नया तरीका निकाला है. पार्टी ने अपने दफ्तर में एक बोर्ड लगाया है, इस बोर्ड का मकसद दिल्ली सरकार और उसके मुखिया अरविंद केजरीवाल को एक्सपोज करने का है. दिल्ली बीजेपी का का दावा है कि आम आदमी पार्टी और उसके मुखिया अरविंद केजरीवाल बार-बार झूठ बोलते हैं और इतनी बार बोलते हैं कि लोग उसे सच समझने लगते हैं, इसीलिए अब पार्टी उनके झूठ और झूठे वादों को एक्सपोज़ करेगी.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

दिल्ली बीजेपी चुनावी मोड में है और निशाना दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं. केजरीवाल पर निशाना साधने के लिए बीजेपी ने एक नया तरीका निकाला है. पार्टी ने अपने दफ्तर में एक बोर्ड लगाया है, इस बोर्ड का मकसद दिल्ली सरकार और उसके मुखिया अरविंद केजरीवाल को एक्सपोज करने का है. दिल्ली बीजेपी का का दावा है कि आम आदमी पार्टी और उसके मुखिया अरविंद केजरीवाल बार-बार झूठ बोलते हैं और इतनी बार बोलते हैं कि लोग उसे सच समझने लगते हैं, इसीलिए अब पार्टी उनके झूठ और झूठे वादों को एक्सपोज़ करेगी.

बुधबार को दिल्ली बीजेपी दफ्तर के भीतर ही एक बार्ड लगाया गया. इस बोर्ड को नाम दिया गया है-केजरीवाल का झूठ. इस बोर्ड पर दिल्ली बीजेपी के उपाध्यक्ष और मीडिया कैंपेन कमेटी के समन्वयक राजीव बब्बर ने सबसे पहले वकील राम जेठमलानी की फीस का मुद्दा उठाया. उन्होंने लिखा कि वकील की फीस का मामला, केजरीवाल ने पर्सनल मामले में वकील की फीस का भुगतान सरकार के खजाने से किया.

बीजेपी ने इस अलग तरीके से वकील राम जेठमलानी की फीस के मामले को उठाने की कोशिश की जिसमें अरुण जेटली की मानहानि केस में अपना पक्ष रखने के लिए जेठमलानी को चार करोड़ का बिल सरकारी खजाने भुगतान करने की कोशिश की.

राजीव बब्बर के मुताबिक ये एक तरीका है, जनता के सामने केजरीवाल के झूठ सामने लाने का. हम अलग-अलग फोरम पर ये मुद्दे उठाते हैं, लेकिन केजरीवाल हर बार झूठ बोलकर इन आरोपों को खारिज करते रहे हैं, लेकिन अब हम हर रोज़ उनके इन झूठे वादों और बातों को उजागर करेंगे.

बीजेपी की योजना केजरीवाल को उन्हीं की बातों में उलझाने की है और पार्टी हर वो तरीका इस्तेमाल कर रही है, जो न सिर्फ लोगों का ध्यान खींचने वाला हो, बल्कि केजरीवाल और उनकी पार्टी को कटघरे में खड़ा करता हो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें