scorecardresearch
 

दिल्लीः अब Google Maps पर देख सकेंगे बसों की Real Time Location, जानें कैसे करेगा काम?

अब गूगल मैप (Google Maps) पर दिल्ली की डीटीसी और कलस्टर बसों की लोकेशन मिल सकेगी. यात्रियों को गूगल प्लेटफॉर्म पर बसों के मार्ग, सभी बस स्टॉप, आगमन और प्रस्थान का समय रियल टाइम नज़र आएगा.

X
हिंदी में भी उपलब्ध है ये सुविधा (फाइल फोटो) हिंदी में भी उपलब्ध है ये सुविधा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गूगल मैप पर मिलेगी सारी जानकारी
  • स्मार्टफोन में कर सकते हैं इस्तेमाल

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal Government) ने बसों के वेटिंग टाइम को कम करने के लिए गूगल एप्स (Google Apps) के साथ सार्वजनिक ट्रांजिट सिस्टम को जोड़ दिया है. इससे अब गूगल मैप (Google Maps) पर दिल्ली की डीटीसी और कलस्टर बसों की लोकेशन मिल सकेगी. यात्रियों को गूगल प्लेटफॉर्म पर बसों के मार्ग, सभी बस स्टॉप, आगमन और प्रस्थान का समय रियल टाइम नज़र आएगा. यहां तक कि बस नंबरों के बारे में भी जानकारी मिल सकेगी. 

दावा है कि इससे बस स्टॉप पर भीड़ को कम होगी. यह सुविधा हिंदी में भी उपलब्ध है और यात्री गूगल सेटिंग में या डिवाइस की भाषा सेटिंग में भी भाषा बदल सकते हैं. 

इस तरह कर सकेंगे उपयोगः
 
- अपने गूगल या आईओएस डिवाइस पर गूगल मैप एप्लिकेशन खोलें.
- अपना गंतव्य दर्ज करें और ‘गो’ आइकन पर टैप करें या (2) ‘गो’ आइकन टैप करें और ‘सोर्स’ और ‘गंतव्य (डेस्टिनेशन)’ स्थान दर्ज करें. यदि यह पहले से चयनित नहीं है, तो हरे या लाल रंग में हाइलाइट किए गए समय, बस संख्या, मार्ग और वास्तविक समय आगमन की जानकारी देखने के लिए ‘ट्रांजिट’ आइकन (छोटी ट्राम) पर टैप करें.
- मार्ग को टैप करने से आप मार्ग के स्टॉप के बारे में अधिक जानकारी देख सकते हैं.
- आने वाली सभी बसों की सूची देखने के लिए बस स्टॉप पर टैप करें, जहां रियल-टाइम जानकारी हरे या लाल बत्ती द्वारा दर्शाई जाती है.

ये भी पढ़ें-- Delhi Weather Update: 19 साल बाद मॉनसून ने दिल्ली वालों को इतना तरसाया, जानें कब होगी मूसलाधार बारिश

2018 में भी शुरू की थी ऐसी ही सुविधा

इससे पहले 2018 में दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने सभी बस स्टॉप, रूट मैप, समय सारिणी के जीपीएस फीड सहित वास्तविक समय डेटा प्रदान करने के लिए इंद्रप्रस्थ सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (IIIt-D) के तकनीकी सहयोग के साथ ओपन ट्रांजिट डेटा विकसित और प्रकाशित किया था. इसके अलावा 2018 में, वन कार्ड और वन दिल्ली ऐप भी विकसित किया गया था जो यात्रियों के लिए सामान्य, गुलाबी टिकट बुक करने के लिए ऐप आधारित टिकटिंग को सक्षम बनाता है और क्यूआर कोड स्कैनिंग के माध्यम से गुजरता है.

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gehlot) ने कहा कि सीसीटीवी, लाइव ट्रैकिंग और ई-टिकटिंग सुविधाओं के माध्यम से बढ़ी हुई निगरानी और महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा दिल्ली के सभी बस यात्रियों के लिए पहले से ही उपलब्ध है. गूगल मैप्स से आज हुई साझेदारी के साथ दिल्ली वैश्विक शहरों की लीग में शामिल हो गई है, जो सार्वजनिक परिवहन की निर्बाध, वास्तविक समय की जानकारी प्रदान करता है, ताकि लोग आखिरी मिनट तक अपनी यात्रा की योजना बना सकें. 

वहीं, डीडीसी के उपाध्यक्ष जस्मीन शाह ने कहा कि हम चाहते थे कि दिल्ली के निवासियों को दिल्ली के किसी भी स्टॉप से बसों की वास्तविक समय आगमन की जानकारी प्राप्त हो, जैसे आप ओला/उबर कारों के वास्तविक समय स्थान को देख सकते हैं.

साथ ही हम यह भी चाहते थे कि यह जानकारी 1-2 एप्स तक सीमित न हो, बल्कि 100 नए ऐप्स हों - जैसा कि आप सिंगापुर या लंदन या न्यूयॉर्क जैसे शहरों में देखते हैं. यह 2018 में ओपन ट्रांजिट डेटा पोर्टल को लॉन्च करने का शुरुआती बिंदु था, जहां दिल्ली भारत का पहला शहर बन गया, जिसने 3000 से अधिक बसों का वास्तविक समय और स्थान साझा किया. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें