scorecardresearch
 

जलसंकट के समाधान के लिए AAP ने मनोज तिवारी को भेजा साथ आने का न्योता

आप पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली का जलसंकट फिलहाल करीब 2 से 3 महीने से चल रहा है. शुरुआती दिनों में जब दिल्ली सरकार एनजीटी गई थी तो शिकायत यह थी कि हरियाणा से जो पानी आता है, वो इतना प्रदूषित है कि इसके इस्तेमाल से ढेरों बीमारियों का खतरा बना रहता है.

आप पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज (फाइल फोटो) आप पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज (फाइल फोटो)

दिल्ली में जारी जलसंकट पर सत्ता पक्ष और विपक्ष एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं. ऐसे में अब सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी (आप) ने बीजेपी नेता मनोज तिवारी को साथ मिलकर संकट का समाधान निकालने का न्योता दिया है.

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली का जलसंकट फिलहाल करीब 2 से 3 महीने से चल रहा है. शुरुआती दिनों में जब दिल्ली सरकार एनजीटी गई थी तो शिकायत यह थी कि हरियाणा से जो पानी आता है, खासकर पानीपत और सोनीपत से, वहां के पानी में अमोनिया है. पानी इतना प्रदूषित है कि इसके इस्तेमाल से ढेरों बीमारियों का खतरा बना रहता है.

उन्होंने कहा कि एनजीटी ने हरियाणा सरकार को आदेश दिया कि उनके यहां फैक्टरी पानी को प्रदूषित कर रही है, उसे रोका जाए. हरियाणा ने प्रदूषण तो रोका मगर दिल्ली के हिस्से के पानी में कमी कर दी. देश के हर राज्य पानी के इस्तेमाल के लिए किसी ना किसी नदी के भरोसे रहते हैं. कई नदियां एक से अधिक राज्यों से होकर गुजरती हैं. हरियाणा की ओर से जब यमुना में पानी छोड़ा जाएगा तभी पानी दिल्ली में आएगा.

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि पानी देने को लेकर हमारा हरियाणा सरकार से करार है. 2 महीने से हरियाणा दिल्ली के हिस्से का पानी हमें नहीं दे रहा. जब हम इस बात को लेकर सुप्रीम कोर्ट गए तो शुरू में हरियाणा सरकार ने नहीं माना, लेकिन बाद में उसने माना कि हम दिल्ली को उसके हिस्से का पानी नहीं दे रहे.

उन्होंने कहा, 'मेरी मनोज तिवारी से विनती है कि खट्टर साहब के पास चलते हैं. मनोज तिवारी कहेंगे तो हम दिल्ली सरकार के मंत्री को भी साथ ले लेंगे. मनोज भाई से मैं विनती करूंगा कि मैं उनके साथ चलूंगा. चलिए, हरियाणा के मुख्यमंत्री से बात करने चलते हैं. हम लोग खट्टर साहब से विनती करेंगे कि पानी छोड़िए ताकि दिल्लीवासियों के लिए पीने का पानी मिल सके.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें