scorecardresearch
 

दिल्ली: ऑक्सीजन की महाकिल्लत, 'एक दिन में 41 अस्पतालों ने की कमी की शिकायत'

दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. हालात ये हैं कि दिल्ली के करीब 41 अस्पतालों में जहां 7 हजार से ज्यादा मरीज भर्ती हैं, सभी ने एक ही दिन में ऑक्सीजन की कमी की चिंता जाहिर की.

दिल्ली में अभी खत्म नहीं हुआ है ऑक्सीजन का संकट (PTI) दिल्ली में अभी खत्म नहीं हुआ है ऑक्सीजन का संकट (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में बढ़ता जा रहा ऑक्सीजन संकट
  • डिमांड से कम हो रही है सप्लाई: AAP

देश की राजधानी दिल्ली में बीते कई दिनों से ऑक्सीजन का संकट बरकरार है. अस्पताल ऑक्सीजन के लिए मदद की गुहार लगा रहे हैं, हाईकोर्ट का रुख कर रहे हैं. लेकिन हालात सुधरते दिखाई नहीं दे रहे हैं. स्थिति अब ये हो गई है कि दिल्ली के करीब 41 अस्पतालों में जहां 7 हजार से ज्यादा मरीज भर्ती हैं, सभी ने एक ही दिन में ऑक्सीजन की कमी की चिंता जाहिर की.

आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा का कहना है कि सोमवार को दिल्ली को कुल 433 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिली, जो कि उसकी कुल मांग (976 MT) का 44 फीसदी है. ऐसे में उनके पास कुल 41 अस्पतालों से SOS मैसेज आए, जिन्होंने ऑक्सीजन की कमी की बात कही. इन अस्पतालों में करीब 7 हज़ार मरीज़ भर्ती थे.

राघव चड्ढा का कहना है कि सोमवार को 41 अस्पतालों ने अलग-अलग माध्यमों से हमें सूचित किया कि उनके पास ऑक्सीजन की कमी है, हमने सभी कॉल का जवाब दिया. टीम केजरीवाल ने करीब 21.3 MT ऑक्सीजन इन अस्पतालों को पहुंचाई है. AAP नेता का आरोप है कि पिछले हफ्ते दिल्ली को औसतन 393 MT ऑक्सीजन मिली, जबकि 976 MT की मांग है. 

सोमवार को जिन 41 अस्पतालों ने SOS भेजा, उनमें से 25 को ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया कराए गए, 11 को मेडिकल ऑक्सीजन भेजी गई, जबकि कुछ को सप्लायर के द्वारा मदद करवाई गई. 

दिल्ली में नहीं खत्म हो रहा है ऑक्सीजन का संकट

बता दें कि राजधानी दिल्ली कोरोना के कहर को झेल रही है, दूसरी लहर यहां पर तबाही मचा रही है. लेकिन इस संकट के वक्त में अस्पतालों को ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए भी अदालत का रुख करना पड़ रहा है. अभी तक करीब आधा दर्जन अस्पताल ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए हाईकोर्ट का रुख कर चुके हैं.

दिल्ली हाईकोर्ट ने भी केंद्र को बीते दिन ही फटकार लगाई थी और बिना किसी देरी के दिल्ली को उचित मात्रा में ऑक्सीजन सप्लाई करने की बात कही थी. सुप्रीम कोर्ट भी केंद्र सरकार से कह चुका है कि दिल्ली को ऑक्सीजन सप्लाई की जाए. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें