scorecardresearch
 

'दीवारतोड़' मेट्रो हादसे पर कार्रवाई, DMRC ने सस्पेंड किए 4 कर्मचारी

मंगलवार को दोपहर करीब साढ़े तीन बजे ट्रायल के बाद जब ट्रेन को मेंटेनेंस के दौरान वाशिंग के लिए शेड में लाया गया, तो यहां ट्रेन स्लोप पर बने ट्रैक से आगे बढ़ गई और दीवार से जा टकराई. इससे दीवार टूट गई और मेट्रो दीवार के बाहर जा पहुंची. गनीमत यह रही कि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ.

मंगलवार को हुआ था हादसा मंगलवार को हुआ था हादसा

दिल्ली मेट्रो की नई मेजेंटा लाइन पर मंगलवार को हुए हादसे के बाद डीएमआरसी ने कालिंदी कुंज डिपो प्रभारी समेत चार कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है. कल ट्रायल के दौरान ट्रेन हादसे की शिकार हो गई थी, हादसा कालिंदी कुंज डिपो में ट्रेन के मेंटेनेंस के दौरान हुआ. कालकाजी से नोएडा को बोटानिकल गार्डन के बीच इस ट्रेन को 25 दिसंबर से चलाया जाना है.

दीवार तोड़ बाहर आई मेट्रो

इस लाइन पर पिछले 6-7 महीनों से ट्रेनों का ट्रायल किया जा रहा है, लेकिन मंगलवार को दोपहर करीब साढ़े तीन बजे ट्रायल के बाद जब ट्रेन को मेंटेनेंस के दौरान वाशिंग के लिए शेड में लाया गया, तो यहां ट्रेन स्लोप पर बने ट्रैक से आगे बढ़ गई और दीवार से जा टकराई. इससे दीवार टूट गई और मेट्रो दीवार के बाहर जा पहुंची. गनीमत यह रही कि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ.

डीएमआरसी ने एक बयान जारी कर कहा था कि यह हादसा मानवीय भूल का नतीजा है, क्योंकि मेंटेनेंस के दौरान ट्रेन के ब्रेक डिसेबल कर दिए जाते हैं और शेड से बाहर निकालते वक्त फिर से ब्रेक को एक्टिवेट किया जाता है, लेकिन इस मामले में ऐसा नहीं हो पाया और ट्रेन हादसे का शिकार हो गई.

दिल्ली सरकार ने DMRC से रिपोर्ट किया तलब

दिल्ली सरकार ने DMRC से रिपोर्ट तलब की है. दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने ट्वीट कर बताया कि कालकाजी-बोटेनिकल गार्डेन ट्रैक पर ट्रायल रन के दौरान चालक रहित मेट्रो ट्रेन के हादसे का शिकार होने पर डीएमआरसी से रिपोर्ट मांगी गई है. उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा से किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें