scorecardresearch
 

बकरीद के मौके पर जामा मस्जिद के शाही इमाम बोले- तीसरी लहर से बचने के लिए कोरोना नियमों का करें पालन

दिल्ली (Delhi) स्थित जामा मस्जिद (Jama Masjid) में भी लोगों ने कोरोना नियमों (Corona Guidelines) का पालन करते हुए नमाज अदा की.Vजामा मस्जिद के शाही इमाम की अपील भी रंग लाती दिखी और इलाके में भीड़ कम नजर आई.

दिल्ली स्थित जामा मस्जिद. (फाइल फोटो) दिल्ली स्थित जामा मस्जिद. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राष्ट्रपति ने दी बकरीद की बधाई
  • एहतियात बरतने की अपील की

देश में आज ईद उल-अज़हा मनाया जा रहा है. इस बार पर्व मनाने के साथ ही कोरोना के संक्रमण से भी बचने की चुनौती है. दिल्ली (Delhi) स्थित जामा मस्जिद (Jama Masjid) में भी लोगों ने कोरोना नियमों (Corona Guidelines) का पालन करते हुए नमाज अदा की. जामा मस्जिद के शाही इमाम की अपील भी रंग लाती दिखी और इलाके में भीड़ कम नजर आई.

जामा मस्जिद के शाही इमाम, अब्दुल गफूर शाह बुखारी ने कहा कि हमें कोरोना की गाइडलाइंस का पालन करने की जरूरत है. तीसरी लहर के मद्देनजर इससे हमारा परिवार और हम खुद सुरक्षित रह सकते हैं. हमने फैसला किया है कि सीमित लोगों को जामा मस्जिद के अदंर नमाज पढ़ने की इजाजत दी जाएगी. 15-20 लोगों ने नमाज अदा की है.

सेंट्रल दिल्ली के डीसीपी जस्मीत सिंह ने कहा कि लोग कोरोना नियमों का पालन करने में सहयोग दिखा रहे हैं, नहीं तो ये इलाका काफी भीड़भाड़ वाला है. इमाम साहब ने भी लोगों से अपील की है कि लोग घरों पर नमाज पढ़ें.

 ईद उल-अज़हा के मौके पर देश में खुशी का माहौल है लोग कोरोना नियमों का पालन करते हुए ईद मना रहे हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने  ईद उल-अज़हा के मौके पर देश के लोगों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि सभी को ईद मुबारक, ईद उल-अज़हा ऐसा पर्व है जो प्रेम, त्याग और एकदूसरे के साथ मिलकर काम करने और समाज में एकता का संदेश देता है.हम सभी को कोरोना गाइडलाइंस का पालन करने के लिए और सभी की खुशहाली के लिए काम करने का संकल्प लेना चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें