scorecardresearch
 

दिल्ली: सीलिंग मुद्दे पर SC की मॉनिटरिंग कमेटी से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इन दिनों चल रही सीलिंग की मार से व्यापारी आहत है. ऐसे में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित मॉनिटरिंग कमेटी के तमाम सदस्यों से जाकर मिला. कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने मॉनिटरिंग कमेटी के सामने मास्टर प्लान का हवाला देते हुए कहा कि दिल्ली शहर के कई इलाकों में हो रही सीलिंग एकदम गलत है.

सीलिंग पर मॉनिटरिंग कमेटी से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल सीलिंग पर मॉनिटरिंग कमेटी से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इन दिनों चल रही सीलिंग की मार से व्यापारी आहत है. ऐसे में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित मॉनिटरिंग कमेटी के तमाम सदस्यों से जाकर मिला. कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने मॉनिटरिंग कमेटी के सामने मास्टर प्लान का हवाला देते हुए कहा कि दिल्ली शहर के कई इलाकों में हो रही सीलिंग एकदम गलत है.

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि दिल्ली में हो रही सीलिंग बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है, क्योंकि कई इलाकों में साल 1962 से पहले कॉमर्शियल गतिविधियां चल रही हैं और कागज दिखाने के बावजूद वहां पर सीलिंग की जा रही है. माकन ने दावा किया कि सुप्रीम कोर्ट की मॉनिटरिंग कमेटी के सामने हमने अपनी बात रखी है और उम्मीद है कि कमेटी हमारी बातों से इत्तेफाक रखेगी.

अजय माकन ने बीजेपी के उन सभी दावों को सिरे से खारिज कर दिया, जिसमें बीजेपी कहती है कि मास्टर प्लान बनाने के चलते अजय माकन ही दिल्ली की सीलिंग के लिए जिम्मेदार है. कांग्रेस नेता ने कहा कि अगर मास्टर प्लान ही सिर्फ सीलिंग के लिए जिम्मेदार है, तो हमारी सरकार रहते हुए सीलिंग क्यों नहीं हुई?

माकन के साथ बड़ी संख्या में दिल्ली के हर व्यवसाय से जुड़े व्यापारी भी आए थे. माकन ने कहा कि अगर मॉनिटरिंग कमेटी हमारी बातों को नहीं मानती है, तो कांग्रेस पार्टी सीलिंग के मुद्दे पर अब सुप्रीम कोर्ट जाएगी. माकन ने एक बार फिर दिल्ली में हो रही सीलिंग के लिए बीजेपी शासित एमसीडी और दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी को जिम्मेदार ठहराया.

उधर, सीलिंग के खिलाफ दिल्ली के ट्रेडर्स का हल्ला बोल जारी है. आज से दो दिन के लिए दिल्ली के बाजार बंद करने का ऐलान किया गया है. दो हजार ट्रेडर्स संगठन बंद में शामिल हो रहे हैं. विरोध प्रदर्शन में सात लाख व्यापारी शामिल हैं. आज व्यापारी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सीलिंग के विरोध में धरना प्रदर्शन करेंगे. वहीं, डीडीए सीलिंग से राहत दिलाने में जुटा हुआ है. साथ ही आज सीलिंग को लेकर विशेष बैठक बुलाई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें