scorecardresearch
 

दिल्ली: फेक सरकारी वेबसाइट बनाकर तीन हजार से ज्यादा लोगों से की 70 लाख की ठगी, गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने रोड ट्रांसपोर्ट ऑफिस के नाम पर जाली वेबसाइट बनाकर लोगों के साथ ठगी करने वाले एक शख्स कपिल त्यागी को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने सरकारी वेबसाइट से मिलती-जुलती वेबसाइट बनाई थी और यह अलग-अलग सर्विसेस के तीन हजार रुपये तक चार्ज किया करता था

आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फेक वेबसाइट बनाकर करता था ठगी
  • लोगों को लगाया 70 लाख का कुल चूना

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने रोड ट्रांसपोर्ट ऑफिस के नाम पर जाली वेबसाइट बनाकर लोगों के साथ ठगी करने वाले एक शख्स कपिल त्यागी को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने सरकारी वेबसाइट से मिलती-जुलती वेबसाइट बनाई थी और यह अलग-अलग सर्विसेस के तीन हजार रुपये तक चार्ज किया करता था. लोगों को इसका वेबसाइट असली जैसा नजर आता और जब लोग एक बार इसके वेबसाइट पर पेमेंट कर देते तो वह पैसा अलग-अलग वॉलेट से होता हुआ इसके अकाउंट में पहुंच जाता.  पूछताछ में और जांच में खुलासा हुआ कि कपिल त्यागी ने अब तक 3300 लोगों को करीब 70 लाख का चूना लगाया है.  

पकड़ में आया कपिल त्यागी पहले एक फेक कॉल सेंटर में काम करता था. वहीं से इसे यह आइडिया आया की सरकारी वेबसाइट बनाकर लोगों के साथ ठगी कर सकता है. इसके बाद इसमें असली से नजर आने वाले फेक वेबसाइट बनाई और लोगों को ठगना शुरू कर दिया.

2 अक्टूबर को रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवे मंत्रालय की तरफ से दिल्ली पुलिस की साइबर सेल में एक शिकायत दी गई थी कि आरटीओ के नाम से कुछ जाली वेबसाइट काम कर रही है. जो डॉक्यूमेंटेशन से लेकर अलग-अलग सर्विसेस के बदले लोगों से  फीस भी वसूल रही है. इस शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

इसके बाद दिल्ली पुलिस की टीम ने डिजिटल फुटप्रिंट और पेमेंट ट्रेल के जरिए आरोपी के बारे में पता लगाने की कोशिश शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस को पता लग गया कि आरोपी गाजियाबाद में बैठकर यह सभी जाली वेबसाइट चला रहा है. इसके बाद पुलिस की टीम ने आरोपी कपिल त्यागी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने कपिल त्यागी के पास से 15 सिम कार्ड, चार मोबाइल फोन, तीन लैपटॉप, दो पेन ड्राइव, दो हार्ड ड्राइव, 15 डेबिट और क्रेडिट कार्ड और अलग-अलग बैंक के अकाउंट में 8 लाख 34 हजार बरामद किए हैं. बैंक में मौजूद पैसे को सीज करा दिया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×