scorecardresearch
 

दलित वोटों पर नजर, रामलीला मैदान में 5 हजार किलो खिचड़ी 'पकाएंगे' अमित शाह

लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी ने दलितों का दिल जीतने के लिए दिल्ली के रामलीला मैदान में 5000 किलो की खिचड़ी रविवार को पकवाकर भीम महासंगम विजय संकल्प-2019 रैली में बांटेगी.

X
खिचड़ी के सहारे बीजेपी की दलितों को जोड़ने की कवायद (फोटो-फाइल)
खिचड़ी के सहारे बीजेपी की दलितों को जोड़ने की कवायद (फोटो-फाइल)

भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव से पहले दलितों को साधने की कवायद शुरू कर दी है. इसके लिए बीजेपी दिल्ली के रामलीला मैदान में रविवार को भीम महासंगम विजय संकल्प-2019 रैली करने जा रही है, इसे पार्टी अध्यक्ष अमित शाह शामिल हो सकते हैं. रैली में भाग लेने पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच पांच हजार किलो खिचड़ी पकाकर बांटी जाएगी. इसे समरसता खिचड़ी का नाम दिया गया है.

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के सभी 14 जिलों के तीन लाख परिवारों के घर-घर जाकर चावल, दाल, नमक व अन्य सामग्री को इकट्ठा किया है. इस अनाज से रविवार को रामलीला मैदान में पांच हजार किलो खिचड़ी पकेगी. पूरी खिचड़ी एक ही पात्र में पकेगी और समरसता रैली में शामिल होने वाले लोगों के बीच बांटी जाएगी.

बता दें कि पिछले लोकसभा के समय दूसरे दलों से कई अनुसूचित जाति के नेताओं ने बीजेपी का दामन थामा था. लेकिन विधानसभा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी दलितों का एक बड़ा तबका अपने साथ लेने में सफल रही थी. यही वजह है कि बीजेपी ने दलितों को एक बार फिर साधने की रणनीति बनाई है.

रामलीला मैदान में पांच हजार किलों की खिचड़ी बनाने के लिए नागपुर से शेफ विष्णु मनोहर को आमंत्रित किया गया है. मनोहर अपनी टीम के साथ 20 फीट व्यास वाले और छह फीट गहरे बर्तन में खिचड़ी बनाएंगे. यह विश्व रिकार्ड होगा. हालांकि वे कुछ महीने पहले नागपुर में तीन हजार किलो खिचड़ी बनाने का रिकॉर्ड बना चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें