scorecardresearch
 

कपिल मिश्रा के आरोपों पर बोले केजरीवाल- सब झूठ है, वाड्रा बोले- जैसे बोएंगे, वैसा काटेंगे

सत्र के बाद पत्रकारों ने कपिल मिश्रा के आरोपों पर सीएम केजरीवाल से सवाल पूछे. जवाब में दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सिर्फ इतना कहा कि सब झूठ है.

केजरीवाल पर वाड्रा का वार केजरीवाल पर वाड्रा का वार

दिल्ली विधानसभा में ईवीएम पर सवाल भी केजरीवाल को भ्रष्टाचार के आरोपों के भंवर से उबार नहीं पाए हैं. दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के बाद उन्होंने ईवीएम में छेड़छाड़ को लेकर सौरभ भारद्वाज के आरोपों को तो दोहराया लेकिन कपिल मिश्रा के आरोपों का सीधा जवाब नहीं दिया.

सब झूठ है!
सत्र के बाद पत्रकारों ने कपिल मिश्रा के आरोपों पर सीएम केजरीवाल से सवाल पूछे. जवाब में दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सिर्फ इतना कहा कि सब झूठ है. मिश्रा के खुलासे के करीब 56 घंटे बाद आरोपों पर ये केजरीवाल की पहली प्रतिक्रिया थी. मिश्रा का कहना है कि उन्होंने केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से उनके आवास पर 2 करोड़ रुपये लेते देखा था. हालांकि मिश्रा ने इन आरोपों को लेकर कोई सबूत पेश नहीं किया है. लेकिन भूख हड़ताल पर बैठने की धमकी जरूर दी है. कुमार विश्वास समेत आम आदमी पार्टी के बाकी नेताओं ने इस मामले में अरविंद केजरीवाल का बचाव किया है.

वाड्रा का वार
दूसरी ओर, इस विवाद ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा को मौका दिया है कि वो केजरीवाल को उन्हीं की घुट्टी का स्वाद चखाएं. वाड्रा ने कहा कि लोग अब सही और गलत देख चुके हैं. उनके मुताबिक 'किसी के ऊपर इल्जाम लगाने से पहले प्रूफ होना बहुत जरूरी है. जो मेरे साथ हुआ है वो बिल्कुल गलत हुआ है.

फेसबुक पोस्ट से निशाना
सोमवार को वाड्रा ने इस मसले पर फेसबुक पर भी संदेश पोस्ट किया था. पोस्ट में उन्होंने लिखा, 'आप जैसा बोएंगे वैसा ही काटेंगे !! वो तमाम लोग जिन्होंने मुझपर साल 2010 की शुरुआत से लगातार बेबुनियाद आरोप लगाए आज खुद कुछ वैसे ही आरोपों के निशाने पर हैं. दिलचस्प ये है उनपर तो आरोप उनके करीबी ही लगा रहे हैं - ऐसे करीबी जिनका कहना है कि केजरीवालजी पर जो भी आरोप लगाए जा रहे हैं वो यूंही नहीं हैं बल्कि उसके ठोस सबूत भी उनके पास मौजूद हैं.'


केजरीवाल के बच्चों से वाड्रा को हमदर्दी!
इसी पोस्ट में वाड्रा आगे लिखते हैं, ' अब मैं ये देखना चाहता हूं कि केजरीवालजी पर लगे आरोपों का आखिर होता क्या है. केजरीवालजी को मेरी शुभकामनाएं हैं ताकि वो कम से कम उन लोगों के लिए पाक-साफ साबित हो सकें जो उनकी बातों में विश्वास करते हैं. मैं उनके परिवार का सम्मान करता हूं. खासतौर से उनके बच्चों की मुझे चिंता है. क्योंकि आमतौर पर बच्चे उन लोगों पर ऐसी मीडिया ट्रायल से अक्सर विचलित हो जाते हैं - जिनसे वो बेहद लगाव रखते हैं.'

केजरीवाल ने लगाए थे आरोप
आपको याद होगा केजरीवाल ने 2012 में आरोप लगाया था कि रियल एस्टेट कंपनी डीएलएफ ने वाड्रा को 65 करोड़ रुपये का कर्ज बिना किसी गारंटी और ब्याज के दे दिया. केजरीवाल का दावा था कि वाड्रा की कंपनियों ने इस पैसे से डीएलएफ के 7 फ्लैट खरीदे. उनका कहना था कि ये फ्लैट्स बाजार के भाव के हिसाब से 35-70 करोड़ रुपये के थे. लेकिन वाड्रा को ये महज 5 करोड़ में मिले.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें