scorecardresearch
 

मुझे पार्टी से अलग-थलग किया गया: देवेंद्र सहरावत

सहरावत ने कहा कि 'अब मुझसे यह पूछा जा रहा है कि मेरा योगदान क्या है? मैंने शुरू से ही पार्टी में योगदान दिया है. जब अरविंद केजरीवाल की पहली मीटिंग हुई थी तो मैंने मुनिरका में कराई थी. जब वे अनशन पर बैठे थे तो पूरी देहात में मीटिंग करवाने में यहां से ढोल-नगाड़े ले जाने में मैंने योगदान दिया. यहां से जंतर-मंतर ले जाने में पीछे रहकर मैंने काम किया है. देशभर के वॉलेंटियर का बंदोबस्त करवाने में मैंने योगदान दिया है.'

X
देवेंद्र सहरावत देवेंद्र सहरावत

दिल्ली के बिजवासन से विधायक कर्नल देवेंद्र सहरावत ने खुद पर उठे सवालों का जवाब दिया. उन्होंने कहा कि मैं इतनी गंभीर बात कर रहा हूं और फिर भी मुझसे सबूत मांगे जा रहे हैं. 'आज तक' से बातचीत में सहरावत बोले कि मैं अब अलग-थलग हो रहा हूं. सहरावत ने सीएम केजरीवाल को चिट्ठी लिख कर अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर आरोप लगाए थे.

शुरू से लेकर अब तक पार्टी का सहयोग किया
सहरावत ने कहा कि 'अब मुझसे यह पूछा जा रहा है कि मेरा योगदान क्या है? मैंने शुरू से ही पार्टी में योगदान दिया है. जब अरविंद केजरीवाल की पहली मीटिंग हुई थी तो मैंने मुनिरका में कराई थी. जब वे अनशन पर बैठे थे तो पूरी देहात में मीटिंग करवाने में यहां से ढोल-नगाड़े ले जाने में मैंने योगदान दिया. यहां से जंतर-मंतर ले जाने में पीछे रहकर मैंने काम किया है. देशभर के वॉलेंटियर का बंदोबस्त करवाने में मैंने योगदान दिया है.'

'हमारे कंधों पर चढ़कर टेलीविजन चैनल पर बैठे'
इसके बाद सहरावत ने कहा कि जब पहली बार पार्टी ने मुझे टिकट दिया तो मेरी हार हुई. लेकिन यह सबसे कम अंतर से हुई हार थी. लोकसभा चुनाव में भी 4 लाख वोट मिले. इसके बाद सहरावत बोले कि हमारे कंधों पर चढ़कर टेलीविजन चैनल पर बैठे लोग पूछ रहे हैं कि पार्टी में मेरा क्या योगदान है. इसके बाद उन्होंने कहा कि मुझसे कहा जा रहा है सबूत लाओ, औरतों की फोटो लाओ.

'रावण खड़ा हो गया है'
सहरावत ने कहा कि पहले यह सब दिल्ली में चल रहा था. अब रावण खड़ा हो गया है. इसीलिए मैंने अन्ना हजारे को चिट्ठी लिखी. उन्होंने कहा कि जो हो रहा है हम उसपर आंख बंद कर के बैठ जाएं. चीरहरण को होने दें. सहरावत ने बताया कि उन्होंने अन्ना को लिखी चिट्ठी में इस बात को सामने रखा है. सहरावत ने कहा कि मुझसे कहा जा रहा है मुझ पर मानहानि का मुकदमा किया जाएगा. इसका जवाब मैं दूंगा, जनता देगी.

'आर्थिक प्रगति में मैं संजय सिंह से पीछे'
इसके बाद सहरावत ने कहा कि जितनी आर्थिक प्रगति संजय सिंह की हुई है, उतनी उनकी नहीं हुई. इसलिए उन्हें अलग-थलग कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि संजय सिंह पर आरोप लगा है और वह टीवी पर बैठ कर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं. यह जवाब उप मुख्यमंत्री को देना चाहिए था. अगर उप मुख्यमंत्री यहां नहीं थे तो भी संजय सिंह कौन होते हैं जवाब देने वाले.

केजरीवाल को चिट्ठी लिख लगाए थे आरोप
बता दें कि कर्नल सहरावत ने सीएम केजरीवाल को चिट्ठी लिख नेताओं पर पंजाब में टिकट देने के लिए यौन शोषण करने का आरोप लगाया गया था. इन नेताओं में दुर्गेश पाठक और संजय सिंह भी शामिल हैं, जबकि दिलीप पांडे पर दिल्ली के विधायकों के कामकाज में दखल देने का आरोप लगाया गया है. इसके जवाब में संजय सिंह ने सहरावत पर मानहानि का मामला दर्ज करने की बात कही थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें