scorecardresearch
 

AAP के मंत्री ने दिए देर से ऑफिस आने वाले अधिकारियों की सैलरी काटने के निर्देश

सत्येंद्र जैन द्वारा भेजे गए सरकारी नोट के मुताबिक शहरी विकास विभाग के अलग- अलग ब्रांच में 4 मई को सुबह 9.30 बजे निरीक्षण किया गया लेकिन 10 बजकर 20 मिनट के बाद पर भी 11 अधिकारी अनुपस्थित थे और कई वरिष्ठ अधिकारी अपनी सीटों में मौजूद नजर नहीं आए.

सत्येंद्र जैन (फाइल फोटो) सत्येंद्र जैन (फाइल फोटो)

दिल्ली सरकार के मंत्रियों और अफसरों के बीच खींचतान एक बार फिर बढ़ सकती है. आम आदमी पार्टी सरकार में शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने देरी से ऑफिस आ रहे अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर की है. सत्येंद्र जैन ने मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को देर से ऑफिस आने वाले अधिकारियों के वेतन में कटौती सहित अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.

सत्येंद्र जैन द्वारा भेजे गए सरकारी नोट के मुताबिक शहरी विकास विभाग के अलग- अलग ब्रांच में 4 मई 2018 को सुबह 9.30 बजे निरीक्षण किया गया लेकिन 10 बजकर 20 मिनट के बाद भी 11 अधिकारी अनुपस्थित थे और कई वरिष्ठ अधिकारी अपनी सीटों में मौजूद नजर नहीं आए.

मुख्य सचिव को लिखे पत्र में मंत्री सत्येंद्र जैन ने आरोप लगाया कि अधिकारी दफ्तर में कम वक्त देकर सरकार को चलने नहीं देना चाहते हैं. अधिकारियों का आंदोलन दूसरे स्तर पर पहुंच गया है जहां जनता से जुड़े काम को रोकने के लिए अधिक से अधिक बाधा उत्पन्न की जा रही है. सभी अधिकारियों को इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी किए जाने की आवश्यकता है.

बता दें कि इसी साल फरवरी में मुख्यमंत्री के आवास पर मुख्य सचिव पर कथित हमले के बाद आम आदमी पार्टी सरकार और अफसरों के बीच तनाव काफी बढ़ गया है. अफसर कैबिनेट की बैठक के अलावा 'आप' मंत्रियों की अन्य किसी बैठक में हिस्सा भी नहीं ले रहे हैं. साथ ही अधिकारी दिल्ली सचिवालय में पांच मिनट का मौन रखकर मुख्य सचिव का समर्थन भी जता रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें