scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़: सुकमा में मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

सुरक्षाबलों ने मौके से एक वर्दीधारी नक्सली का शव और इंसास रायफल बरामद किया है. कई बड़े नक्सलियों को गोली लगने की भी खबर है. इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

X
नक्सली हमले की फाइल फोटो (IANS) नक्सली हमले की फाइल फोटो (IANS)

छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई है. मंगलवार सुबह से डब्बाकोंटा इलाके में यह मुठभेड़ चल रही है. सुरक्षाबलों ने मौके से एक वर्दीधारी नक्सली का शव और इंसास रायफल बरामद किया है. इसके अलावा कई बड़े नक्सलियों को गोली लगने की भी खबर है. इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

इससे पहले सुकमा में मार्च महीने में सीआरपीएफ की विशेष यूनिट के साथ मुठभेड़ में चार नक्सली मारे गए थे. जगरगुंडा क्षेत्र में बीमापुर से लगभग एक किलोमीटर अंदर जंगली क्षेत्र में सुबह छह बजे कमांडो बटालियन फॉर रिजोल्यूट एक्शन (कोबरा) यूनिट के खोजी अभियान के दौरान मुठभेड़ शुरू हो गई. घटनास्थल से यूनीफॉर्म पहने चार नक्सलियों के शव, एक इंसास रायफल और दो 303 रायफलें बरामद हुईं.

उधर राजनंदगांव में सुरक्षा बलों ने 28 जून को मुठभेड़ के बाद नक्सली शिविर को नष्ट कर दिया. भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की 27वीं बटालियन ने महाराष्ट्र की सीमा से सटे राजनंदगांव जिले में शिविर को निशाना बनाया. आईटीबीपी और छत्तीसगढ़ पुलिस के राजनंदगांव-कांकेर-गढ़चिरौली सीमा के पास कोहकाटोली के जंगलों में भोर में करीब 4 बजे पहुंचने के बाद यह मुठभेड़ शुरू हुई.

घटनास्थल पर करीब 20 से 26 विद्रोही थे जो वहां से भाग खड़े हुए. वहां से करीब 303 राइफल, 12 बोर राइफल, एक एयरगन, एक वायरलेस सेट और अन्य सामान जब्त किए गए. आईटीबीपी के एक बयान के अनुसार, ऐसा अंदेशा है कि मुठभेड़ शुरू होने पर स्थानीय नक्सल कमांडर सुख लाल जंगल में इस समूह का नेतृत्व कर रहा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें