scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़: गोबर मुद्दे पर बघेल सरकार को RSS का मिला साथ, BJP ने किया विरोध

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में गौ पालक किसानों से गोधन न्याय योजना के माध्यम से गोबर खरीदने का फैसला किया है. हालांकि मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने राज्य सरकार के इस फैसले की आलोचना की है.

भूपेश बघेल को मिला RSS का साथ भूपेश बघेल को मिला RSS का साथ

  • RSS ने की गोधन न्याय योजना की तारीफ
  • BJP सोशल मीडिया पर कर रहा है विरोध

छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार इन दिनों सरकारी दर पर किसानों से गोबर खरीदने के निर्णय को लेकर चर्चा में है. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े लोगों ने गोधन न्याय योजना पर खुशी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मिलकर उनका आभार प्रकट किया है.

गौ ग्राम स्वावलंबन अभियान छत्तीसगढ़ के संयोजक भुनेश्वर साहू ने बताया कि उन्होंने मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू से भेंट कर सरकार के द्वारा गोबर खरीदने के ऐतिहासिक निर्णय के लिए उनका अभिनंदन किया है.

साहू ने बताया कि पिछले एक सालों से गौ ग्राम स्वावलंबन अभियान के जरिए गौ रक्षा, जैविक कृषि और ग्राम स्वावलंबन के लिए सरकार के द्वारा गोबर और गौ मूत्र खरीदने की मांग को लेकर आंदोलन हो रहा था. ऐसे में जब सरकार ने गोबर खरीदने का निर्णय लिया तो अभियानकर्ताओं ने उनका अभिनंदन किया.

उन्होंने बताया कि अभियान के संरक्षक बिसराराम यादव (राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रांत संघचालक) ने मुख्यमंत्री से गोबर के साथ गौ मूत्र की खरीदी करने, जैविक उत्पाद के लिए अलग से जैविक बाजार के माध्यम से उत्पाद खरीदने की व्यवस्था करने, रासायनिक खाद में दी जाने वाली भारी भरकम सब्सिडी को कम करके जैविक कृषि को प्रोत्साहित करने तथा गाय कोठा निर्माण के लिए पशु पालकों को अनुदान राशि देने जैसी मांगों को पूरा करने का आग्रह किया है.

बता दें, छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में गौ पालक किसानों से गोधन न्याय योजना के माध्यम से गोबर खरीदने का फैसला किया है. हालांकि मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने राज्य सरकार के इस फैसले की आलोचना की है.

बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर, सोशल मीडिया के जरिए, राज्य सरकार के इस फैसले का लगातार विरोध कर रहे हैं. हाल ही में उन्होंने एक गाना ट्वीट किया था जिसमें राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा गया था कि राज्य सरकार अब राज्य के युवाओं से पढ़ाई लिखाई छुड़ाकर गोबर उठवाने का कार्य करवाने की कोशिश कर रही है.

विकास दुबे के दो और साथी ढेर, कानपुर में प्रभात मिश्रा तो इटावा में बउआ दुबे का एनकाउंटर

ऐसे में आरएसएस से जुड़े लोगों द्वारा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का अभिनंदन एक बार फिर से राज्य में चर्चा का विषय बन गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें