scorecardresearch
 

दो महीने में ही नीतीश कुमार शरद यादव के लिए 'चौपट राजा' हो गए

अपने चार दिवसीय बिहार यात्रा पर पटना पहुंचे शरद यादव ने कहा कि बिहार में भ्रष्टाचार चरम पर है.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

 जनता दल यू के बागी नेता शरद यादव ने बिहार आते ही कहा कि यहां 'अंधेर नगरी चौपट राजा' है. पिछले 12 वर्षों से बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार चल रही थी. तब सब कुछ ठीक था, जब शरद यादव साथ थे, लेकिन अलग होते ही नीतीश कुमार को चौपट राजा की उपाधि दे दी. अपने चार दिवसीय बिहार यात्रा पर पटना पहुंचे शरद यादव ने कहा कि बिहार में भ्रष्टाचार चरम पर है.

जनता दल यू ने शरद यादव पर पटलवार करते हुए कहा कि वो बिहार में एक परिवार की विरासत को बचाने के लिए आए हैं, जिस पर भ्रष्टाचार का आरोप है. जनता दल यू के प्रदेश अध्य़क्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि शरद यादव से ऐसे बयान की उम्मीद नहीं थी. उनका यहां जनाधार कहां है, वो जाएं मध्य प्रदेश में राजनीति करें.

शरद यादव ने भागलपुर के बटेश्वर स्थान बांध नहर परियोजना के क्षतिग्रस्त होने पर नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि 70 वर्षों के इतिहास में हिन्दुस्तान में ऐसा कभी नही हुआ कि 380 करोड़ की बांध परियोजना, जिसका उद्धाटन मुख्यमंत्री करने वाला हो, वो एक दिन पहले क्षतिग्रस्त हो जाए. ऐसा उदाहरण हिन्दुस्तान में क्या पूरी दुनिया में नही मिलेगा, यह लूट है. उन्होंने कानून एवं व्यवस्था के मामले पर भी बिहार सरकार को निशाने पर लिया. शरद यादव ने नीतीश कुमार के साथ-साथ बीजेपी को भी अपने निशाने पर लिया.

शरद यादव 2003 से नीतीश कुमार के साथ हैं और जनता दल यू के 12 वर्षों तक राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे, तब तक सब कुछ ठीक था, नीतीश कुमार अच्छे राजा थे, लेकिन 26 जुलाई 2017 के बाद नीतीश कुमार ने महागठबंधन से नाता तोड़ बीजेपी से हाथ मिला लिया तब वो चौपट राजा हो गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें