scorecardresearch
 

'बिहार में महा जंगलराज, BJP को अपनी ही सरकार पर भरोसा नहीं', तेजस्वी यादव ने बोला हमला

बिहार में बीजेपी नेताओं को केंद्र सरकार की ओर से दी गई वाई श्रेणी सुरक्षा और पार्टी कार्यालयों पर केंद्रीय बलों की तैनाती को लेकर तेजस्वी यादव ने सरकार पर हमला बोला है.

X
तेजस्वी यादव (फाइल फोटो) तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • छुटभैया नेताओं को भी केंद्र ने दी Y श्रेणी सुरक्षा- तेजस्वी
  • कहा- सरकार में स्थिति अविश्वासपूर्ण, अराजक और विस्फोटक

बिहार में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के 10 नेताओं को पिछले दिनों केंद्र सरकार ने Y श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की थी. इसे लेकर अब विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर हमला बोला है. तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार में बीजेपी के नेताओं को अपनी ही सरकार और पुलिस पर भरोसा नहीं रहा. इसी कारण से अब उन्हें अपने नेताओं की सुरक्षा के लिए केंद्रीय सुरक्षाबलों की मदद लेनी पड़ रही है.

तेजस्वी यादव ने बिहार बीजेपी के नेताओं को Y श्रेणी सुरक्षा को लेकर सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने ऐसा करके स्पष्ट रूप से बता दिया है कि बिहार में महा जंगलराज है. तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में बीजेपी की सरकार है और उनके ही सांसद और विधायकों को अपनी सुरक्षा के लिए केंद्रीय सुरक्षाबलों से Y श्रेणी की सुरक्षा लेनी पड़ रही है.

उन्होंने कहा है कि इन भ्रष्ट और डरपोक भाजपाइयों को अपनी ही डबल इंजन वाली बिहार सरकार और बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं है. तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि बिहार में कानून व्यवस्था और सरकार संचालन की स्थिति बद से बदतर हो गई है. उन्होंने कहा कि बीजेपी कोटे के उपमुख्यमंत्री, मंत्रियों, विधायकों और सांसदों को जब अपने ही राज्य सरकार की पुलिस और विधि व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था पर भरोसा नहीं रहा तो इससे यह बात स्पष्ट हो जाती है कि सरकार के अंदर स्थिति अविश्वासपूर्ण, अराजक और विस्फोटक हो गई है.

बीजेपी कार्यालय पर केंद्रीय बलों की तैनाती पर उठाए सवाल

तेजस्वी यादव ने बिहार के अलग-अलग जिलों में बीजेपी कार्यालय पर भी केंद्रीय सुरक्षाबलों की तैनाती को लेकर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि क्या ऐसा करके केंद्र सरकार ने देश के संघीय ढांचे पर हमला नहीं किया है? क्या केंद्र ने राज्य सरकार को बिना विश्वास में लिए बीजेपी के जिला कार्यालयों में केंद्रीय सुरक्षा बलों को तैनात कर देश के संघीय ढांचे पर हमला नहीं किया? बिहार सरकार बताए कि क्या बिहार पुलिस इतनी अक्षम है कि बीजेपी कार्यालय में चौकीदारी के लिए उसे केंद्रीय सुरक्षाबल मंगाना पड़ रहा.

अग्निपथ विरोधी प्रदर्शन में बीजेपी कार्यालयों पर हुई थी आगजनी

बता दें कि पिछले दिनों बिहार में सेना भर्ती की अग्निपथ योजना के खिलाफ उग्र विरोध-प्रदर्शन हुए थे. विरोध-प्रदर्शन के दौरान उग्र भीड़ ने बीजेपी के कई नेताओं को टारगेट किया और कई जिलों में बीजेपी के कार्यालयों में भी आगजनी की. इन घटनाओं के तुरंत बाद केंद्र सरकार ने बिहार बीजेपी के 10 नेताओं की सुरक्षा बढ़ा दी थी. इनमें डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, बिहार बीजेपी अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल, विधायक हरि भूषण ठाकुर, संजय सरावगी और संजीव चौरसिया शामिल हैं. इन सभी नेताओं को Y श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें