scorecardresearch
 

तेजस्वी का तंज, कहा- कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिलाने के लिए PM से क्यों नहीं मिलते नीतीश कुमार

तंज भरे लहजे में तेजस्वी ने कहा कि माना कि BJP के हाथों बंधक होने के बाद आप पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा नहीं दिला सकते, लेकिन राजनीति से इतर कर्पूरी जी को भारत रत्न दिलाने के लिए आप हमारी मांग का समर्थन करें. 

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो) आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नीतीश कुमार पर फिर निशाना साधा
  • कहा- CM ने दिखावटी जवाब दिया
  • लालू की रिहाई के लिए शुरू की मुहिम

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर फिर निशाना साधा है. तेजस्वी ने जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की मांग लेकर सीएम को घेरा. उन्होंन कहा कि कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न देने की हमारी मांग पुरानी है, लेकिन बिहार से NDA के 40 में से 39 सांसद होने के बावजूद डबल इंजन सरकार जननायक को भारत रत्न क्यों नहीं दे रही है? क्या इसलिए कि वो वंचित समूह से संबंध रखते हैं? CM इसके लिए विशेष रूप से PM से क्यों नहीं मिलते?

तेजस्वी ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न के लिए मैंने 4:04 PM पर ट्वीट किया. CM ने 4:24 पर दिखावटी जवाब दिया. अगर वास्तव में कर्पूरी जी को भारत रत्न दिलाने की नीतीश जी की ख्वाहिश है तो क्या इस मांग के लिए वो हमारे साथ राष्ट्रपति के सामने परेड में शामिल होंगे? अन्यथा वो पहल करें. 

तंज भरे लहजे में तेजस्वी ने कहा कि माना कि BJP के हाथों बंधक होने के बाद आप पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा नहीं दिला सकते, लेकिन राजनीति से इतर कर्पूरी जी को भारत रत्न दिलाने के लिए आप हमारी मांग का समर्थन करें. 

लालू की रिहाई के लिए मुहिम

चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की रिहाई की मांग जोर पकड़ने लगी है. बेटे तेज प्रताप यादव ने अपने पिता लालू प्रसाद यादव की रिहाई के लिए मुहिम शुरू की है. तेज प्रताप यादव ने मुहिम शुरू करते हुए राष्ट्रपति के नाम एक पोस्ट कार्ड जारी किया. उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि सभी लालू प्रसाद यादव की रिहाई की मांग के लिए राष्ट्रपति को पत्र लिखें. जिसने हमें ताक़त दिया आज वक्त है उनके लिए ताकत बनने का. बता दें कि लालू प्रसाद दिल्ली एम्स में भर्ती है. उनके फेफड़े में पानी भर गया है. शनिवार को लालू एयर एंबुलेंश से दिल्ली लाए गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें