scorecardresearch
 

तेजस्वी का आरोप- मुजफ्फरपुर में 9 मासूमों का हत्यारा बीजेपी नेता!

हालांकि, बीजेपी के आला नेताओं ने इस बात से इनकार किया है कि मनोज बैठा का भाजपा से कोई भी कनेक्शन है. पार्टी के उपाध्यक्ष देवेश कुमार ने कहा कि मनोज बैठा नाम का कोई भी व्यक्ति बीजेपी के महादलित मंच का प्रदेश मंत्री नहीं है.

बीजेपी नेता मनोज बैठा (फाइल फोटो) बीजेपी नेता मनोज बैठा (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी सड़क मार्ग पर शनिवार को बोलेरो से 9 मासूम बच्चों की कुचलकर हुई मौत के मामले में स्थानीय बीजेपी नेता का नाम सामने आ रहा है. आरोपी बीजेपी के नेता मनोज बैठा को बताया जा रहा है जो सीतामढ़ी के जिला महामंत्री हैं.

दरअसल, 9 बच्चों की मौत जिस बोलेरो से हुई उसके आगे बीजेपी का बोर्ड लगा हुआ था. जिसपर मनोज बैठा, प्रदेश मंत्री (महादलित मंच) लिखा हुआ था. बीजेपी नेता का नाम सामने आने के बाद जिस जगह पर घटना घटी वहां के स्थानीय लोगों ने कहा कि उन्होंने दुर्घटना के वक्त मनोज बैठा को बोलेरो गाड़ी से निकलते देखा था. इस दुर्घटना के बाद से ही नेता मनोज बैठा और बोलेरो गाड़ी का ड्राइवर फरार है.

हालांकि, बीजेपी के आला नेताओं ने इस बात से इनकार किया है कि मनोज बैठा का भाजपा से कोई भी कनेक्शन है. पार्टी के उपाध्यक्ष देवेश कुमार ने कहा कि मनोज बैठा नाम का कोई भी व्यक्ति बीजेपी के महादलित मंच का प्रदेश मंत्री नहीं है. अब ये बात सामने आ गई है कि मनोज बैठा बीजेपी का नेता है और वह सीतामढ़ी जिले का महामंत्री है.

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव शनिवार शाम को मुजफ्फरपुर के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉस्पिटल पहुंचे जहां उन्होंने इस घटना में मारे गए 9 मासूम बच्चों के परिवारवालों को सांत्वना दी. इस दौरान तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि इस पूरी घटना में बीजेपी नेता मनोज बैठा और उनका ड्राइवर शामिल है. तेजस्वी ने यह भी कहा कि बोलेरो गाड़ी के ड्राइवर ने शराब पी रखी थी. जिसकी वजह से उसकी गाड़ी अनियंत्रित हो गई और इतनी बड़ी दुर्घटना हो गई.

तेजस्वी ने मुजफ्फरपुर पुलिस पर भी सवाल उठाए और पूछा कि घटना होने के इतने घंटे के बाद भी बोलेरो गाड़ी का ड्राइवर और बीजेपी नेता मनोज बैठा को पुलिस पकड़ क्यों नहीं पाई है? तेजस्वी ने आरोप लगाया कि बिहार सरकार मनोज बैठा को बचाने की कोशिश कर रही है. तेजस्वी ने यह भी सवाल उठाया कि आखिर बोलेरो गाड़ी के ड्राइवर को शराब कहां से मिली जबकि राज्य में शराबबंदी लागू है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें