scorecardresearch
 

सावन में तेजप्रताप का 'शिव अवतार', त्रिशूल-डमरू-शंख के साथ कांवड़ लेकर हुए रवाना

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप कांवड़ लेकर बाबा बैद्यनाथ के लिए रवाना हो गए हैं. इस दौरान वो भगवान शंकर की भेषभूषा में नजर आए हैं. वो हाथ में त्रिशूल, डमरू और मंडल भी लिए थे.

भगवान शंकर के भेष में दिखे तेजप्रताप भगवान शंकर के भेष में दिखे तेजप्रताप

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव अक्सर अलग-अलग अवतारों में नजर आते हैं. सावन के महीने में तेजप्रताप अब भगवान शंकर की भेषभूषा में नजर आए हैं.

मंगलवार को आरजेडी नेता तेजप्रताप अपने समर्थकों के साथ पटना से कांवड़ लेकर बाबा बैद्यनाथ के लिए रवाना हुए. इस दौरान वे भगवान शंकर के भेष में दिखे. वो हाथ में त्रिशूल, डमरू और मंडल भी लिए थे. साथ ही शरीर में भभूत भी लगाए हुए थे और रुद्राक्ष के माला पहने हुए थे.

तेजप्रताप कांवड़ लेकर सुल्तानगंज से 120 किमी पैदल चलकर देवघर पहुंचेंगे और बाबा बैद्यनाथ को जल चढ़ाएंगे. उन्होंने देवघर रवाना होने से पहले मंदिर में भगवान शंकर की पूजा की और शंख बजाया. तेजप्रताव के साथ उनके समर्थक भी काफी संख्या में मौजूद थे.

तेजप्रताप का कहना है कि वो अपने पिता लालू प्रसाद यादव की लंबी उम्र और बिहार की खुशहाली की कामना लेकर बैद्यनाथ जा रहे हैं. इससे पहले तेजप्रताप यादव कृष्ण के भेष में बासुरी बजाते नजर आ चुके हैं. उनकी ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं.

मालूम हो कि सावन का महीना शुरू हो गया है और देशभर में लोग कावड़ लेकर भगवान शंकर को जल चढ़ाने पहुंच रहे हैं. ऐसे में भला बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री कैसे पीछे रहते? उन्होंने भी भगवान शिव का रूप धरा और अपने समर्थकों के साथ चल पड़े देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम के लिए. वो वहां पहुंचकर भगवान शंकर को जल चढाएं और पूजा करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें