scorecardresearch
 

RJD विधायक का तेजस्वी को नसीहत, कहा- CAA-NRC सेंटिमेंटल मुद्दा, इसे राजनीतिक न बनाएं

आरजेडी विधायक फराज फातमी ने बागी तेवर अपना लिया है. वो न सिर्फ पार्टी नेतृत्व से नाराज हैं बल्कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर प्रशंसा भी कर रहे हैं.

आरजेडी विधायक फराज फातमी (फाइल फोटो) आरजेडी विधायक फराज फातमी (फाइल फोटो)

  • दरभंगा के केवटी से RJD विधायक हैं फराज फातमी
  • कहा- इस मुद्दे पर नीतीश कुमार का साथ दें तेजस्वी

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) विधायक फराज फातमी ने बागी तेवर अपना लिया है. वो न सिर्फ पार्टी नेतृत्व से नाराज हैं बल्कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर प्रशंसा भी कर रहे हैं. गुरुवार को आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि तेजस्वी के पास 2020 के विधानसभा चुनाव के लिए कोई मुद्दा नहीं है. इस वजह से वो CAA और NRC का मुद्दा लिए घूम रहे हैं, जबकि नीतीश कुमार ने पहले ही NRC को नकारते हुए कह चुके हैं कि बिहार में ये लागू नहीं होगा.

तेजस्वी यादव आज से CAA और NRC के खिलाफ बिहार के सीमांचल में रैली कर रहे हैं. फराज फातमी ने कहा कि जब किशनगंज में बाढ़ आई थी तब वो पीड़ितों से मिलने क्यों नहीं गए. लेकिन आज जा रहे हैं क्योंकि उन्हें मुसलमानों का वोट चाहिए. फराज फातमी ने कहा कि जब नीतीश कुमार NRC पर अपना बयान दे चुके हैं तो फिर उनका साथ देना चाहिए.

नीतीश राज में बिहार आगे बढ़ रहा हैः फातमी

उन्होंने कहा कि CAA और NRC सेंटीमेंटल मुद्दा है. इसे राजनीतिक मुद्दा नहीं बनाना चाहिए और तेजस्वी यादव को नीतीश कुमार का साथ देना चाहिए. फराज फातमी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 15 साल के राज में बिहार में विकास की गति बढ़ने की बात कहते हुए कहा कि राज्य में सभी क्षेत्र में विकास के काम हुए. बिहार आगे बढ़ रहा है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री के बेटे हैं फराज फातमी

फराज फातमी आरजेडी के पूर्व सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहम्मद अली अशरफ फातमी के बेटे हैं. वो दरभंगा के केवटी से आरजेडी के विधायक हैं. अली अशरफ फातमी लोकसभा चुनाव में आरजेडी से टिकट न मिलने से नाराज होकर पार्टी छोड़ जेडीयू में शामिल हो गए थे. हालांकि फराज फातमी ने आरजेडी छोड़ने की बात पर साफ जवाब नहीं दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें