scorecardresearch
 

RJD से मुझे बाहर निकालने की हिम्मत किसी में नहीं, लालू के बेटे तेजप्रताप की खुली चुनौती

तेज प्रताप ने कहा, ''मेरा किसी से कोई विवाद नहीं है. मेरा विवाद नीतीश कुमार और आरएसएस के साथ है. परिवार अलग जगह है और राजनीतिक लड़ाई अपनी अलग जगह.'' तेजप्रताप ने कहा कि वह जय प्रकाश नारायण के अनुयायी और कृष्ण भक्त हैं और उन्हें पार्टी से निकालने की हिम्मत किसी में नहीं है.

Tej Pratap Yadav Tej Pratap Yadav
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तेजस्वी के साथ किसी प्रकार के विवाद से इनकार किया
  • मेरा विवाद नीतीश कुमार और आरएसएस के साथ है: तेज

आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने अपने छोटे भाई तेजस्वी के साथ किसी प्रकार के विवाद से इनकार किया है और कहा है कि वह इस वक्त केवल राजनीतिक लड़ाई लड़ रहे हैं. समाजवादी नेता जयप्रकाश नारायण के जयंती के मौके पर तेजप्रताप ने पटना में जनशक्ति यात्रा निकाली. यहां पर वह नंगे पांव जेपी गोलंबर से चलकर अगमकुआं इलाके में स्थित जयप्रकाश नारायण के आवास पर पहुंचे और उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी. इसी दौरान 'आज तक' से एक्सक्लूसिव बातचीत करते हुए तेजप्रताप ने कहा कि उनका तेजस्वी के साथ कोई भी विवाद नहीं है.

तेजप्रताप ने कहा, ''मेरा किसी से कोई विवाद नहीं है. मेरा विवाद नीतीश कुमार और आरएसएस के साथ है. परिवार अलग जगह है और राजनीतिक लड़ाई अपनी अलग जगह.'' वहीं, पिछले दिनों आरजेडी उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी के उस बयान पर भी तेजप्रताप भड़के जहां पर शिवानंद तिवारी ने दावा किया था कि तेजप्रताप आरजेडी का हिस्सा नहीं है और उन्हें पार्टी से निष्कासित किया जा चुका है. तेज प्रताप ने कहा कि वह जयप्रकाश नारायण के अनुयायी और कृष्ण भक्त हैं और उन्हें पार्टी से निकालने की हिम्मत किसी में नहीं है.

उन्होंने कहा, ''जो जय प्रकाश नारायण का अनुयायी और श्री कृष्ण का भक्त है उसको आखिर पार्टी से कौन बाहर निकल सकता है?.'' वहीं सोमवार को जनशक्ति यात्रा के दौरान जब तेज प्रताप का काफिला राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव के आवास 10, सर्कुलर रोड के सामने से गुजरा तो लग रहा था कि शायद वह अपनी मां का आशीर्वाद देने के लिए घर के अंदर जाएंगे मगर उनका काफिला बिना वहां रुके गुजर गया. इस पर उन्होंने कहा कि हमको लेट हो रहा था और बहुत लोग इंतजार कर रहे थे. घर में सब ठीक है.

लंबे समय के बाद दिल्ली से पटना झगड़ा सुलझाने लौटीं राबड़ी

वहीं, बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी अपने घर में पनप रहे झगड़े को शांत कराने के लिए लंबे समय बाद दिल्ली से पटना लौटी हैं. लालू यादव परिवार में पिछले काफी दिनों से दोनों बेटों तेज प्रताप और तेजस्वी के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. इस झगड़े को सुलझाने के लिए राबड़ी देवी दिल्ली से पटना लौटी हैं. बता दें कि जेल से निकलने के बाद लालू यादव का स्वास्थ्य ठीक नहीं है. लालू यादव काफी दिनों से दिल्ली में ही हैं. राबड़ी देवी भी दिल्ली में लालू यादव के साथ थीं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें