scorecardresearch
 

रामकृपाल यादव बोले, महागठबंधन एक बेमेल शादी, तलाक तय है

लोकसभा चुनाव के घोषणा के साथ बिहार में भी सरगर्मियां तेज हो गई है. इस बीच केंद्रीय मंत्री और पाटलीपुत्र से सांसद रामकृपाल यादव ने दावा किया एनडीए बिहार में 40 में से 40 सीट जीतेगी. महागठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि देश में कहीं भी महागठबंधन ज्यादा दिन तक टिक नहीं पाया है. फिर चाहे वो दिल्ली हो यूपी हो या फिर बंगाल या बिहार सभी जगह झूठबंधन टिक नहीं पाएगा.

रामकृपाल यादव (फोटो-आजतक) रामकृपाल यादव (फोटो-आजतक)

लोकसभा चुनाव के घोषणा के साथ बिहार में भी सरगर्मियां तेज हो गई है. इस बीच केंद्रीय मंत्री और पाटलीपुत्र से सांसद रामकृपाल यादव ने दावा किया एनडीए बिहार में 40 में से 40 सीट जीतेगी. महागठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि देश में कहीं भी महागठबंधन ज्यादा दिन तक टिक नहीं पाया है. फिर चाहे वो दिल्ली हो यूपी हो या फिर बंगाल या बिहार सभी जगह झूठबंधन टिक नहीं पाएगा.

हालांकि एनडीए में कौन किस सीट पर चुनाव लड़ेगा यह अभी तय नहीं है. खबरें यह भी आ रही हैं कि रामकृपाल यादव के पाटलीपुत्र सीट पर भी जेडीयू ने दावा किया है. लेकिन इसके बावजूद वो आत्मविश्वास से भरे हैं. उनका कहना है कि उन्होंने पांच साल जनता के बीच रहकर जो काम किया है उसका प्रतिफल जरूर मिलेगा और लालू यादव की बेटी मीसा भारती उनके लिए कोई चुनौती नहीं है.

रामकृपाल यादव ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी निशाना साधा और मसूद अजहर को 'जी' सम्बोधित करने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कि पता नहीं कांग्रेस पार्टी को क्या हो गया है. कभी दिग्विजय सिंह पुलवामा हमले को दुर्घटना बताते हैं तो कभी राहुल गांधी मसूद अजहर को 'जी' संबोधित करते हैं.

इतना बड़ा आतंकवादी जिसने हमारे देश में ना जाने कितने निर्दोषों की हत्या कर दी, खून की नदियां बहा दी. ऐसे आतंकवादी को अपनी राजनीति फायदे के लिए 'जी' संबोधन करना सही नहीं है और कोई देशभक्त ऐसा नहीं कर सकता है. उन्होंने आगे कहा कि देश आज पूरे तौर पर पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित आतंकवाद के खिलाफ है. खासकर हाल में पुलवामा हमले में जो 40 से 45 जवान हमारे शहीद हुए हैं उसके कारण पूरा देश इकट्ठा होकर एक ही नारा दे रहा है. हमारा भारत एक है और उसको हम लोग सम्मानित कर रहे हैं.

रामकृपाल यादव ने कहा कि राष्ट्रवाद के नाम पर बीजेपी राजनीतिक लाभ लेना पसंद नहीं करती है. हमारे वायु सेना के जवानों के पराक्रम पर जो सवाल उठा रहा हैं. यह कौन कर रहा हैं. राष्ट्रवादी तो सभी हैं. सबके अंदर राष्ट्रवाद की भावना है. तभी हमारा देश एक हैं. लेकिन इसका राजनीतिक लाभ लेने का काम विपक्ष में बैठे लोग कर रहे हैं.

गौरतलब है कि रामकृपाल यादव पाटलीपुत्र से बीजेपी के सांसद हैं और केन्द्र में मंत्री भी हैं. इस बार एनडीए में जेडीयू के आने से पाटलीपुत्र सीट पर उसने अपना दावा तो ठोका है लेकिन रामकृपाल आश्वस्त हैं कि सीट उन्हीं को मिलेगी. उनका कहना है कि पांच वर्षो तक मैं केवल पाटलीपुत्र की जनता के बीच रहा हूं. उनके लिए काम किया हैं. लेकिन ये सब देखना केंद्रीय नेतृत्व का काम हैं. मैंने ईमानदारी पूर्वक निष्ठा से काम कर अपने क्षेत्र में विकास की नदी बहाई है.

उन्होंने कहा कि उनके सामने कोई विरोधी चुनौती पेश नहीं कर सकता है. 2014 के लोकसभा के चुनाव में लालू यादव की बेटी मीसा भारती को हराकर संसद में पहुंचे थे. रामकृपाल यादव ने कहा कि इस बार नीतीश और मोदी की जोड़ी है. बिहार में मीसा भारती उनके लिए कोई चुनौती नही हैं.

रामकृपाल यादव ने दावा किया कि इसबार 40 में 40 सीट बिहार में हम जीतेंगे. छोटा बच्चा हो या बड़ा हो, सब का यही मानना है अबकी बार मोदी सरकार, अबकी बार 400 पार. इसलिए यहां 40 का 40 के मुकाबले में कोई टिकेगा ही नहीं.

उन्होंने कहा कि गठबंधन का झूठ एकजुट हो रहा है. कांग्रेस पार्टी समाजवादी पार्टी और बीएसपी उत्तर प्रदेश में एक हैं. दिल्ली में केजरीवाल और कांग्रेस पार्टी एक है. ममता दीदी की तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस एक हैं. बिहार में तो कोई टिकेगा ही नहीं कोई बंधन कोई महागठबंधन टिकने वाला नहीं है. महागठबंधन बेमेल शादी है और इसका तलाक तय है.

बता दें कि 10 मार्च को लोकसभा चुनाव की घोषणा हुई थी. पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश के साथ बिहार में भी सात चरणों में चुनाव होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें