scorecardresearch
 

NDA की मीटिंग में चिराग पासवान को न्योता, नीतीश हुए नाराज तो BJP ने रोका

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में चिराग पासवान को लेकर मामला शांत होता नहीं दिख रहा है. बजट पेश होने से पहले बुलाई गई एनडीए की बैठक में एलजेपी को आमंत्रित किए जाने से सियासी घमासान शुरू हो गया. LJP के अध्यक्ष चिराग पासवान को एनडीए की बैठक का निमंत्रण केंद्रीय संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी की तरफ से भेजा गया.

एलजेपी प्रमुख चिराग पासवान (फाइल फोटो) एलजेपी प्रमुख चिराग पासवान (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चिराग को आमंत्रित करने से नीतीश नाराज
  • एलजेपी के आमंत्रण से एनडीए में घमासान
  • जेडीयू के खिलाफ रुख के चलते नीतीश नाराज

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में चिराग पासवान को लेकर मामला शांत होता नहीं दिख रहा है. बजट पेश होने से पहले बुलाई गई एनडीए की बैठक में एलजेपी को आमंत्रित किए जाने से सियासी घमासान शुरू हो गया. LJP के अध्यक्ष चिराग पासवान को एनडीए की बैठक का निमंत्रण केंद्रीय संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी की तरफ से भेजा गया.

जेडीयू सूत्रों के हवाले खबर है कि नीतीश कुमार की नाराजगी के चलते बीजेपी आलाकमान की तरफ से चिराग पासवान को फोन करके कहा गया है कि वो इस बैठक में आमंत्रित नहीं हैं. गलती से उन्हें एनडीए की बैठक का निमंत्रण चला गया था.  

बता दें कि संसद का बजट सत्र का पहला भाग 15 फरवरी तक चलेगा जबकि सत्र का दूसरा भाग 8 मार्च से 8 अप्रैल तक आयोजित किया जाएगा. इससे पहले, बजट सत्र के सुचारू रूप से संचालन को लेकर एनडीए दलों की बैठक बुलाई गई थी जिसमें चिराग पासवान को आमंत्रित किया गया था, लेकिन बाद में उन्हें मना कर दिया गया. 

असल में, बिहार चुनाव में जेडीयू के उम्मीदवारों के खिलाफ एलजेपी ने अपने उम्मीदवारों को उतारा था, जिस कारण जेडीयू को विधानसभा चुनाव में कई सीटों पर नुकसान हुआ था. बिहार विधानसभा चुनाव में एलजेपी ने एनडीए से अलग होकर लड़ा था. हालांकि चिराग पासवान की पार्टी को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था और पार्टी 243 सीटों में से केवल एक सीट ही जीत पाई थी. 

देखें: आजतक LIVE TV

बिहार चुनाव के बाद से एलजीपी और जेडीयू के बीच मनमुटाव अब भी जारी है. कुछेक दिन पहले ही एलजेपी के एक मात्र विधायक के जेडीयू में शामिल होने के कयास तेज हो गए हैं. विधायक ने हाल ही में जेडीयू नेताओं से मुलाकात की थी.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें