scorecardresearch
 

नीतीश के काफिले में छात्रों का हंगामा, सीएम ने कहा- बिहार में हम रहेंगे या शराब माफिया

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जैसे ही बिहार के दरभंगा में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे ठीक उसी समय कुछ छात्र-छात्राएं उनकी गाड़ी के काफिले के सामने अचानक कूद गए और हंगामा शुरू कर दिया.

X
नीतीश कुमार नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जैसे ही बिहार के दरभंगा में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे ठीक उसी समय कुछ छात्र-छात्राएं उनकी गाड़ी के काफिले के सामने अचानक कूद गए और हंगामा शुरू कर दिया.

छात्र-छात्राओं पर पुलिस की जोर-आजमाइश
मौके की नजाकत को देखते पुलिस ने तुरंत विरोध कर रहे छात्र-छात्राओं को वहां से बलपूर्वक हटाने का प्रयास किया. इसी क्रम में पुलिस ने छात्रों पर जमकर लाठिया भांजी और जमकर लात घुसे भी चलाए. विरोध करने वाले सभी छात्र मिथिला स्टूडेंट यूनियन से जुड़े छात्र हैं, जो नीतीश कुमार से मिलकर चीनी मिल को चालू करने के लिए ज्ञापन देना चाह रहे थे. हालांकि पुलिस ने अभी तक इस पूरे मामले में कुछ भी नहीं कहा. पुलिस ने चार लोगो कों हिरासत में भी ले रखा है.

छात्रों की जमकर पिटाई
नीतीश कुमार शराबबंदी पर जीविका के द्वारा डीएमसीएच के ऑडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम से निकलने के बाद कॉलेज में ललित कर्पूरी भवन के उद्घाटन में शामिल होने जब कॉलेज के गेट पर पहुंचे, उसी समय मिथिला स्टूडेंट्स यूनियन के कुछ छात्रों ने मुख्यमंत्री से मिलने की कोशिश की. उसी समय दरभंगा पुलिस के दर्जनों पुलिसकर्मियों ने लात-घुसों से छात्रों की पिटाई कर दी. इस पूरे प्रकरण में पुलिस के द्वारा जिस तरह से छात्रों को सड़क पर उठा कर फेंक रहे थे वह निश्चित रूप से अमानवीय था. पुलिस की पिटाई इतनी बेरहम थी की कई छात्रों को गंभीर चोट लगी है.

इससे पहले बिहार में पूर्ण शराब बंदी से उत्साहित नीतीश कुमार जीविका से जुड़ी महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा की बिहार में अब हम रहेंगे या शराब माफिया, दोनों साथ-साथ नहीं रह सकते.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें