scorecardresearch
 

नीतीश से मुलाकात के बाद बोले रुपेश के परिजन- हमें न्याय चाहिए, सीबीआई दिलवाए या पटना पुलिस

रुपेश की पत्नी नीतू सिंह के साथ ही उनकी मां और परिवार के अन्य सदस्य शाम 4 बजे के करीब मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग पर पहुंचे और सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की.

X
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटोः ट्विटर) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटोः ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • परिजन बोले- अपराधी को मिले सख्त सजा
  • नीतीश ने दिया स्पीडी ट्रायल का आश्वासन

बिहार की राजधानी पटना में इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रुपेश कुमार सिंह हत्याकांड का पटना पुलिस ने खुलासा कर दिया था. पुलिस के खुलासे से असंतुष्ट रुपेश के परिजनों ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की. रुपेश की पत्नी नीतू सिंह के साथ ही उनकी मां और परिवार के अन्य सदस्य शाम 4 बजे के करीब मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग पर पहुंचे और सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की.

सीएम से रुपेश के परिजनों की इस मुलाकात के दौरान बिहार के डीजीपी एसके सिंघल और पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) उपेंद्र शर्मा भी मौजूद थे. दिलचस्प बात यह है कि मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद रुपेश के परिजन जो पिछले कई दिनों से मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग कर रहे थे, उन्होंने पटना पुलिस की जांच को लेकर भी संतोष जताया है.

रुपेश के परिजनों ने कहा है कि उन्हें न्याय चाहिए, सीबीआई जांच या फिर पटना पुलिस की जांच किसी से भी एतराज नहीं है. रुपेश के बड़े भाई नंदेश्वर सिंह ने कहा है कि परिवार को इस बात की चिंता नहीं है कि रुपेश हत्याकांड की जांच सीबीआई करती है या फिर पटना पुलिस. परिवार की मांग है कि अपराधी को सख्त सजा मिलनी चाहिए. नंदेश्वर सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री के तरफ से भी परिवार को आश्वासन मिला है कि जल्द ही सभी अपराधी पकड़े जाएंगे और मामले की स्पीडी ट्रायल कराई जाएगी.

उन्होंने न्याय की उम्मीद जताते हुए कहा कि हमने मुख्यमंत्री से मुलाकात की और अपराधी को सख्त से सख्त सजा देने की बात कही. हमें सीबीआई या फिर पटना पुलिस की जांच से कोई ऐतराज नहीं है. हम चाहते हैं कि अपराधी को सख्त से सख्त सजा मिले. नंदेश्वर सिंह ने कहा कि पटना पुलिस से न्याय मिले या फिर सीबीआई से, हमें बस न्याय चाहिए. अभी केवल अपराधी के बयान पर पुलिस इसे रोड रेज का मामला मान रही है मगर हम चाहते हैं कि मामले की गहन जांच हो.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें