scorecardresearch
 

पटना बाढ़ पर एक्शन में नीतीश कुमार, अधिकारियों का किया तबादला

नगर विकास के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद का ट्रांसफर कर दिया गया है. उन्हें विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग भेज दिया गया है. वहीं BUIDCO के एमडी अमरेंद्र प्रसाद सिंह को बिहार राज्य सड़क परिवहन निगम भेजा गया है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की फाइल फोटो (ANI) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की फाइल फोटो (ANI)

  • नगर विकास के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद का ट्रांसफर
  • BUIDCO के एमडी अमरेंद्र प्रसाद को परिवहन विभाग भेजा

बिहार की राजधानी पटना में बाढ़ को लेकर नीतीश सरकार की कार्रवाई जारी है. सरकार ने दो अफसरों का तबादला कर दिया है. नगर विकास के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद का ट्रांसफर कर दिया गया है. उन्हें विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग भेज दिया गया है.

वहीं BUIDCO के एमडी अमरेंद्र प्रसाद सिंह को बिहार राज्य सड़क परिवहन निगम भेजा गया है. पटना जलभराव की स्थिति के लिए जिम्मेदार ठहराए जाने के बाद दोनों का स्थानांतरण हुआ. चंद्रशेखर सिंह अब BUIDCO के नए एमडी होंगे.

जांच कमेटी का गठन

इससे पहले सरकार ने जलजमाव की जांच के लिए एक चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया. ये कमेटी इस बात की जांच करेगी कि आखिर पटना में जलजमाव की स्थिति क्यों पैदा हुई.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को घोषणा की थी कि पटना में जलजमाव की जांच करने के लिए एक कमेटी बनाई जाएगी, जो 1 महीने के अंदर अपनी रिपोर्ट सरकार को देगी. मंगलवार को इस कमेटी के सदस्यों के नाम तय कर लिए गए. 4 सदस्य कमेटी के अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह होंगे. वहीं, अमृत लाल मीणा, सिद्धार्थ और प्रत्यय अमृत इसके सदस्य होंगे.

सरकार की बड़ी कार्रवाई

सोमवार को बिहार सरकार ने बड़ी कार्रवाई की और बुडको के चीफ इंजीनियर सहित 11 इंजीनियरों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया. इसके अलावा पटना नगर निगम के कंकड़बाग अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी और मुख्य सफाई निरीक्षक से स्पष्टीकरण मांगा गया. इसके अलावा बांकीपुर के कार्यपालक अधिकारी, मुख्य सफाई निरीक्षक और सभी 12 सफाई निरीक्षकों को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. छह सफाई निरीक्षकों को निलंबित भी किया गया है.

बता दें सितंबर महीने के अंतिम दिनों में भारी बारिश के बाद पटना के कई इलाकों में जलजमाव की स्थिति पैदा हो गई थी. पटना के कई इलाकों में अभी भी जलजमाव की स्थिति बनी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें