scorecardresearch
 

शराबबंदी को सफल बनाने की खातिर 'पुलिस भर्ती' भी कर सकते हैं नीतीश कुमार!

उन्होंने पुलिस के बड़े अधिकारियों को भी नसीहत दी और कहा कि वो स्थिति पर नजर रखें कि किस इलाके में ज्यादा अपराध हो रहे हैं, दंगे हो रहे हैं. वहां कि स्थिति का आकलन करें और कार्रवाई करें.

X
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुलिस अधिकारियों को जमकर नसीहत दी उन्होंने कहा कि हम पुलिस को सुविधा दे रहे हैं तो उन्हें कानून का राज स्थापित करना होगा. उन्होंने कहा कि पुलिस अगर टाइट होगी तो अपराध नहीं होगा. उन्होंने माना कि पुलिस बीच में अपने कर्तव्य से ढीली हुई थी लेकिन अब उसे सख्त होने की जरूरत है.

उन्होंने पुलिस के बड़े अधिकारियों को भी नसीहत दी और कहा कि वो स्थिति पर नजर रखें कि किस इलाके में ज्यादा अपराध हो रहे हैं, दंगे हो रहे हैं. वहां कि स्थिति का आकलन करें और कार्रवाई करें.

मुख्यमंत्री मुख्य रूप से शराबबंदी के दौरान जिस तरीके से शराब की तस्करी हो रही है उससे खफा दिख रहे थे. उन्होंने कहा कि अब बिहार में शराब बंदी हो गई है हम नशामुक्ति की तरफ से जा रहे हैं लेकिन समाज में कुछ डिरेल रहते हैं जो अवैध धंधा करते हैं. पुलिस को उन पर नजर रखनी होगी. जो पहले शराब के धंधे में थे वो अब क्या कर रहे हैं, इस पर नजर रखने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि शराबबंदी को सफल बनाने के लिए पुलिस बल में और नियुक्ति के लिए भी वो तैयार हैं.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार पुलिस भवन निर्माण विभाग के कार्यक्रम में पटना में बोल रहे थे. उन्होंने 54 नवनिर्मित थानों के भवन सहित 174 भवनों का उदघाटन किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि ना हम किसी को बचाते हैं और ना फंसाते हैं. जो भी अपराधी होंगे उन्हें सजा मिलनी चाहिए.

उन्होंने माना कि बिहार में पुलिस अधिकारियों की कमी है. उन्होंने कहा कि पता नहीं केंद्र सरकार ने क्यों अधिकारियों का कोटा कम कर दिया था. एक-एक आईएएस को तीन-तीन विभाग देना पड़ता है. पुलिस अधिकारियों की भी काफी कमी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें