scorecardresearch
 

नीतीश कुमार बोले- बिहार के तर्ज पर गुजरात में लागू हो शराबबंदी कानून

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गांधी जी के चंपारण यात्रा के 100 साल पूरे होने पर अपने निश्चय यात्रा की शुरुआत चंपारण की धरती से की. निश्चय यात्रा के पहले दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पश्चिम चंपारण में सरकार के विकास कार्यों का फीड बैक लेने के बाद बेतिया के महाराजा स्टेडियम में चेतना रैली को भी संबोधित किया.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गांधी जी के चंपारण यात्रा के 100 साल पूरे होने पर अपने निश्चय यात्रा की शुरुआत चंपारण की धरती से की. निश्चय यात्रा के पहले दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पश्चिम चंपारण में सरकार के विकास कार्यों का फीड बैक लेने के बाद बेतिया के महाराजा स्टेडियम में चेतना रैली को भी संबोधित किया. चेतना रैली में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिना जन जागरण के कोई काम सफल नहीं होता यही कारण है कि इस रैली का नाम चेतना रैली रखा गया. नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी को लेकर बनाए गए कानून को लोग तालिबानी कानून की संज्ञा दे रहे हैं.

उन्होंने कहा कि शराबबंदी का कानून तालिबानी कानून न बने इसके लिए लोगों के पास क्या सुझाव हैं? सरकार ने आम लोगों से विज्ञापन के माध्यम से सुझाव मांगा भी है. नीतीश कुमार ने कहा कि 14 नवंबर को पटना में बैठकर वो स्वंय लोगों से इस संबंध में सुझाव मांगेंगे कि शराबबंदी का कानून लोगों की नजर में तालिबानी कानून न बने.

हल्के-फुल्के लाठी चार्ज और विरोध के बीच चेतना रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सरकार के सात निश्चय के क्रियान्वयन का फीड बैक लेने के लिए वो बिहार के दौरे पर निकल हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि उन्होंने चुनाव से पहले ये तय किया था कि सरकार बनने के बाद सात निश्चय को अमल में लाया जाएगा और अब समय आ गया है कि उस वादे को पूरा किया जाए. सात निश्चय को पूरा करने को लेकर सरकार पूरी तरह कृत संकल्पित है. नीतीश कुमार ने कहा कि सरकार के सात निश्चय में बिहार के युवाओं पर विशेष ध्यान दिया गया है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद जो भी निर्णय लिए गए उससे बिहार की जनता काफी खुश है. उन्होंने कहा कि बिहार के गांव में रहने वाले लोग सरकार द्वारा लिए गए निर्णय से कितना खुश हैं उसी को देखने के लिए निश्चय यात्रा का कार्यक्रम तय किया गया है. उन्होंने कहा कि निश्चय यात्रा के पहले दिन ही यह देखने को मिला कि बिहार की आम जनता सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों से खुश हैं.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी की चर्चा करते हुए कहा कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी से कुछ लोगों को छोड़कर सभी लोग खुश हैं. उन्होंने कहा कि गांव में शांति का माहौल है. शराबबंदी के बाद से समाज में नया बदलाव आया है. नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी से किसी भी कीमत पर कोई समझौता नहीं होगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महिलाओं का आह्वान करते हुए कहा कि समाज में अगर कोई व्यक्ति शराब पीने या फिर उसका व्यवसाय करने का काम करता है तो इसकी सूचना वो संबंधित अधिकारियों को दें.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी कानून लागू कर बिहार पूरे देश के सामने एक उदाहरण बन गया है. उन्होंने गुजरात में दलित रैली के जरिए बिहार के तर्ज पर पूर्ण शराबबंदी लागू करने की मांग की. नीतीश कुमार ने चेतना रैली में मौजूद लोगों से कहा कि आप सजग रहें, सचेत रहें और सावधान भी रहें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×