scorecardresearch
 

आज तक इंपैक्ट: छात्रों ने दी आत्महत्या की धमकी तो जागी बिहार सरकार

बिहार के 60 छात्र को भुवनेश्वर स्थित राजधानी इंजीनियरिंग कॉलेज से फीस न भर पाने की वजह से निकाल दिया गया था.

फीस न भर पाने की वजह से कॉलेज से निकाले गए 60 दलित छात्रों ओर से आत्महत्या की धमकी दिए जाने की खबर 'आज तक' पर चलने के बाद बिहार सरकार की नींद खुल गई है. सरकार ने तत्काल एक्शन लेते हुए सभी छात्रों की फीस जमा करा दी है.

यह भी पढ़ें-  कॉलेज से निकाले गए 60 दलित छात्रों ने दी आत्महत्या की धमकी

दरअसल, बिहार के 60 छात्र को भुवनेश्वर स्थित राजधानी इंजीनियरिंग कॉलेज से फीस न भर पाने की वजह से निकाल दिया गया था. इन छात्रों ने राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही छात्रवृत्ति योजना के तहत इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला लिया था.

कई बार नोटिस के बावजूद नहीं भरी थी फीस
कॉलेज प्रशासन की ओर से लगातार कई बार नोटिस दिए जाने के बाद भी बिहार सरकार उनकी फीस नहीं भर पाई, जिसकी वजह से कॉलेज ने उन्हें बाहर कर दिया गया. इनमें से 18 छात्र मोतिबारी के हैं, जबकि 42 छात्र बेतिया जिले के हैं.

हर छात्र को दिए जाने हैं 110000 रुपये
छात्रों का कहना था कि बिहार सरकार ने उनकी अनदेखी की है. कॉलेज प्रशासन ने करीब एक साल तक उनका पढ़ने और रहने-खाने का खर्च उठाया लेकिन उसके बाद हाथ खड़े कर लिए. बिहार सरकार की योजना के मुताबिक, इन छात्रों को हर साल एक लाख 10 हजार रुपये दिए जाने थे.

आखिरकार जागी सरकार
छात्रों ने आत्महत्या की धमकी दी और मामला डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव तक पहुंचा तो सरकार ने तत्काल कार्रवाई शुरू की. दो दिन के अंदर 17,39770 रुपये छात्रों की फीस के तौर पर कॉलेज प्रशासन के अकाउंट में जमा करा दिए गए हैं. हालांकि अभी तक यह तय नहीं हुआ है कि सरकार बाकी पैसा कब कॉलेज प्रशासन को देगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें