scorecardresearch
 

आईआरएस अधिकारी सौरभ कुमार बने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के निजी सचिव

सौरभ बिहार के अररिया जिले के निवासी हैं और उन्होंने दिल्ली के सेंट स्टीफेन्स कॉलेज से पढ़ाई की है.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटोः Aajtak.in) केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटोः Aajtak.in)

मोदी सरकार 2.0 में केंद्रीय मंत्रियों के सचिव और निजी सचिव नियुक्त किए जाने का सिलसिला जारी है. शनिवार को मोदी मंत्रिमंडल के वरिष्ठ सदस्य और केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को भी निजी सचिव मिल गया. सौरभ कुमार को प्रसाद का निजी सचिव नियुक्त किया गया है. कुमार 2009 बैच के भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) के अधिकारी हैं.

कुमार की नियुक्ति पर केंद्रीय कैबिनेट की नियुक्ति कमेटी ने मुहर लगा दी. इस कमेटी के प्रमुख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं. सौरभ बिहार के अररिया जिले के निवासी हैं और लिंक्ड इन पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार उन्होंने दिल्ली के सेंट स्टीफन्स कॉलेज से पढ़ाई की है. आदेश के अनुसार कुमार का कार्यकाल चार साल 10 महीने या अगले आदेश तक होगा.

गौरतलब है कि रविशंकर प्रसाद भी लोकसभा में बिहार के ही पटना साहिब संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद मोदी सरकार में कानून और न्याय, संचार और आईटी जैसे महत्वपूर्ण मंत्रालय संभाल रहे हैं. प्रसाद पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री रहे और बगावत कर कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरे अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा को मात दी थी.

बता दें कि इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह और महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी के निजी सचिवों की नियुक्ति हो चुकी है. बिहार कैडर के 2009 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी साकेत कुमार को गृह मंत्री शाह और 2002 बैच की कर्नाटक कैडर की अधिकारी एम इमकोंग्ला जमीर को महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी का निजी सचिव नियुक्त किया गया था.

साकेत कुमार की नियुक्ति जुलाई 2023, जबकि जमीर की नियुक्ति 22 जुलाई 2020 तक के लिए की गई है. साकेत कुमार मोदी सरकार 1.0 में रेल एवं संचार राज्यमंत्री मनोज सिन्हा के निजी सचिव रहे थे, वहीं जमीर 2015 में भी स्मृति ईरानी की निजी सचिव रही थीं. तब ईरानी एचआरडी मिनिस्टर थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें