scorecardresearch
 

गिरिराज सिंह ने दिखाए तेवर, DGP से की बेगूसराय के SP की शिकायत

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने सफाई दी है. अवकाश कुमार ने अपने ऊपर लगे सारे आरोप सिरे से खारिज करते हुए क्षेत्रीय सांसद गिरिराज के इर्द-गिर्द रहने वाले लोगों पर उन्हें बरगलाने का आरोप लगाया.

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (फाइल फोटोः PTI) केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (फाइल फोटोः PTI)

  • SP पर लगाया था अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप
  • गिरिराज सिंह बोले- जो कहना था, डीजीपी से कह चुका हूं

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अवकाश कुमार को जमकर फटकार लगाई है. गिरिराज सिंह ने बढ़ते अपराध के लिए एसपी को जिम्मेदार ठहराया और अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया. केंद्रीय मंत्री ने एसपी की शिकायत पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) से भी की है. अब गिरिराज सिंह का यह वीडियो वायरल हो रहा है.

अब वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने सफाई दी है. सोमवार को पत्रकारों से बात करते हुए अवकाश कुमार ने अपने ऊपर लगे सारे आरोप सिरे से खारिज करते हुए क्षेत्रीय सांसद गिरिराज के इर्द-गिर्द रहने वाले लोगों पर उन्हें बरगलाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि अगर सांसद के पास आरोपों के समर्थन में सबूत हैं, तो वे वरिष्ठ अधिकारियों को सबूत के साथ इसकी जानकारी दें. आरोप सिद्ध होने पर वह किसी भी सजा के लिए तैयार हैं.

यह भी पढ़ें- गिरिराज सिंह के माल्यार्पण के बाद RJD ने गंगाजल से किया अंबेडकर प्रतिमा का शुद्धिकरण

 मृतक के परिजनों ने कोर्ट से जमानत मिलने पर भी एसपी पर सवाल उठाए और कहा क्या कोर्ट में किसी कर्मचारी अधिकारी के साथ बदसलूकी होती, तो क्या उसे बेल मिलती. एसपी ने पिछले दिनों हुई प्रिंस की मौत को दुर्घटना बताया और कहा कि सड़क दुर्घटना में मौत को हत्या बताते हुए परिजनों ने पुलिसकर्मियों से बदसलूकी की थी, इसलिए उन्हें गिरफ्तार किया गया था.

यह भी पढ़ें- गिरिराज को बीजेपी अध्यक्ष ने किया तलब, देवबंद को बताया था आतंक की गंगोत्री

वहीं, इस संबंध में पूछे जाने पर गिरिराज सिंह ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि जो कहना था, वह डीजीपी से कह चुका हूं. बता दें कि 4 फरवरी को जिले के फुलवरिया में छात्र प्रिंस कुमार की सड़क हादसे में मौत हो गई थी. इस मामले में परिजनों ने हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था.

आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजन एसपी ऑफिस पहुंचे और हंगामा कर दिया. इस घटना के बाद पुलिस ने मृतक के चार परिजनों को हंगामा करने के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. इसे लेकर बिफरे गिरिराज सिंह ने एसपी को फोन कर जमकर खरी खोटी सुनाई थी. हालांकि बाद में परिजनों को जमानत मिल गई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें