scorecardresearch
 

बिहार: तेजस्वी यादव बोले- कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम एक काल्पनिक बात

तेजस्वी यादव ने कहा कि “जब पूरे देश में सब कुछ सामान्य हो गया है तो फिर विधानसभा का सत्र पारंपरिक रूप से क्यों नहीं चल सकता है? अगर बजट सत्र सामान्य रूप से नहीं चला तो विपक्षी पार्टियां मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगी”,

राजद नेता तेजस्वी यादव. (फाइल फोटो) राजद नेता तेजस्वी यादव. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बजट सत्र सामान्य रूप से नहीं चलाने की मांग
  • 'किसानों के समर्थन में मानव श्रृंखला बनाएगा महागठबंधन'
  • कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर उठाए सवाल

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ऐलान किया कि 30 जनवरी को किसानों के समर्थन में बिहार में महागठबंधन मानव श्रृंखला बनाएगा.
रविवार को तेजस्वी यादव के आवास पर हुई महागठबंधन के नेताओं की बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया है. तेजस्वी यादव ने घोषणा की “30 जनवरी को शहादत दिवस के मौके पर महागठबंधन किसानों के समर्थन में मानव श्रृंखला बनाएगा जो पंचायत स्तर तक होगा”,

इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने आगामी विधानसभा के बजट सत्र को महामारी के कारण कम दिनों के लिए चलाने के प्रस्ताव का विरोध किया. आमतौर पर बिहार विधानसभा का बजट सत्र 1 महीने से ज्यादा तक चलता है. तेजस्वी ने कहा कि सरकार की तरफ से इस बार यह कहा जा रहा है कि मार्च में कोरोना टीकाकरण का काम चलेगा इस वजह से बजट सत्र को कम दिनों के लिए रखा गया है.

तेजस्वी यादव ने चेतावनी दी कि अगर बिहार विधानसभा का बजट सत्र सामान्य रूप से नहीं चला तो फिर विपक्षी दल मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के आवास का घेराव करेंगे. तेजस्वी यादव ने कहा कि “जब पूरे देश में सब कुछ सामान्य हो गया है तो फिर विधानसभा का सत्र पारंपरिक रूप से क्यों नहीं चल सकता है? अगर बजट सत्र सामान्य रूप से नहीं चला तो विपक्षी पार्टियां मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगी.”

देखें- आजतक LIVE TV

16 जनवरी से पूरे देश में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण का कार्यक्रम पूरे देश में शुरू होने वाला है मगर तेजस्वी का मानना है कि कोरोना की वैक्सीन फिलहाल एक काल्पनिक बात है. तेजस्वी ने कहा कि “वैक्सीन कब आएगी और किसको लगेगी यह केवल कल्पना की बात है. बिहार में कब वैक्सीन आएगी, कितनी आएगी और कहां रखी जाएगी. इन सब को लेकर सरकार की क्या व्यवस्था है, इसके लिए विधानसभा सत्र जरूरी है या चुनाव जरूरी है.” 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें