scorecardresearch
 

बिहार सरकार ने कोरोना टेस्ट के रेट घटाए, RT-PCR के लिए देने होंगे 800 रुपये

बिहार सरकार ने टेस्टिंग को और तेज करने के लिए अब प्राइवेट लैब में RT-PCR टेस्टिंग की दरों को 1500 से घटाकर 800 रुपये कर दिया है. साथ ही एंटीजन टेस्ट कराने की दर को भी कम करके अब 500 से घटाकर 250 रुपये किया गया है.

RT-PCR टेस्टिंग की दर 1500 से घटकर 800 रुपये हुई RT-PCR टेस्टिंग की दर 1500 से घटकर 800 रुपये हुई
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्वास्थ्य मंत्री का दावा बिहार में कोविड-19 नियंत्रण में
  • गाइडलाइंस का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ एक्शन
  • एंटीजन टेस्ट 250 रुपये में करा सकेंगे, पहले 500 लगता था

बिहार में कोविड-19 के खिलाफ जंग को और तेज करने के लिए राज्य सरकार की ओर से अब RT-PCR और एंटीजन टेस्ट की दरों में काफी कमी की गई है.

बिहार सरकार ने टेस्टिंग को और तेज करने के लिए अब प्राइवेट लैब में RT-PCR टेस्टिंग की दरों को 1500 से घटाकर 800 रुपये कर दिया है. साथ ही एंटीजन टेस्ट कराने की दर को भी कम करके अब 500 से घटाकर 250 रुपये किया गया है.

महामारी के खिलाफ जंग में बिहार सरकार पर यह आरोप लग रहे हैं कि रोजाना जितने भी टेस्ट हो रहे हैं उसमें ज्यादा एंटीजन टेस्ट हो रहे हैं और RT-PCR की दर केवल 10 से 12 फ़ीसदी है. बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का मानना है कि कोविड-19 के खिलाफ जंग में बिहार देश में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया का नेतृत्व कर रहा है.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा,“कोरोना के खिलाफ जंग में बिहार देश ही नहीं पूरी दुनिया का नेतृत्व कर रहा है. बिहार का रिकवरी रेट 97 फ़ीसदी से ज्यादा है. बिहार देश में दूसरे नंबर पर है जहां पर सबसे ज्यादा टेस्टिंग हो रही है. बिहार में फिलहाल तकरीबन 5500 हजार संक्रमित मामले हैं जबकि ऐसे और प्रदेश है जहां रोजाना 5500 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. इस बात से स्पष्ट है कि हम लोग महामारी पर लगाम लगाने में पूरी तरीके से कामयाब रहे हैं.”

दूसरी तरफ कोविड-19 महामारी को लेकर परिवहन विभाग भी लगातार बिहार में अभियान चला रहा है और नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ सख्ती की जा रही है. महामारी के इस दौर में बुधवार को पटना में परिवहन विभाग ने बस और ऑटो में तय संख्या से ज्यादा लोगों को बैठाने को लेकर अभियान चलाया.

मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर विनोद कुमार ने कहा, “हम लोग महामारी को लेकर अभियान चला रहे हैं और सरकार से आदेश है कि बस और ऑटो 50 फ़ीसदी लोगों के साथ चला करेंगे. मगर जहां भी इसका उल्लंघन हो रहा है. हम वहां पर कार्रवाई कर रहे हैं.”

देखें: आजतक LIVE TV

पिछले 24 घंटे में बिहार में कुल 680 संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं. सबसे ज्यादा मामले पिछले 24 घंटों में पटना से है, जहां से 233 नए मामले सामने आए हैं. बिहार में पिछले 24 घंटे में 12,6,606 सैंपल की जांच हुई है. जानकारी के मुताबिक बिहार में अब तक कुल 23,6,778 मामले सामने आए हैं जिनमें से 23,0,001 मरीज ठीक हो गए हैं.

बिहार में कोविड-19 मरीजों का रिकवरी रेट 97.15 फीसदी है. अब तक बिहार में कोविड-19 से मरने वाले लोगों की संख्या 1274 हो गई है. पूरे प्रदेश में अब तक कुल 1,49,21,021 कोविड-19 की जांच की गई है.

फिलहाल पूरे प्रदेश में अभी संक्रमित मरीजों की संख्या 5502 है. बिहार में फिलहाल सबसे ज्यादा कोविड-19 के मरीज राजधानी पटना में हैं जहां पर 2043 संक्रमण के मामले हैं. पटना से बाद संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले मुजफ्फरपुर (266), भागलपुर (210), पूर्णिया (203) और गया (188) में हैं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें