scorecardresearch
 

भूकंप की चपेट में आया आधा हिन्दुस्तान, बिहार में 16 की मौत‍

नेपाल और अफगानिस्तान में लगभग एक ही समय पर आए दो भूकंप के झटकों से उत्तर भारत का हिस्सा भी प्रभावित हुआ है. दोपहर 12 बजकर 38 मिनट में आए भूकंप के झटकों से पूरा उत्तर भारत हिला गया.

नेपाल और अफगानिस्तान में लगभग एक ही समय पर आए भूकंप के दो झटकों से बिहार में भी तबाही हुई है. दोपहर 12 बजकर 38 मिनट में आए भूकंप के झटकों से बिहार में 16 लोगों की मौत हो गई है.

हालांकि आधिकारिक रूप से 6 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि छह की मौत की पुष्टि हुई है जबकि 15 अन्य लोगों की मौत की सूचना मिली है. प्रदेश में तीन दर्जन लोग घायल बताए जा रहे हैं. स्वास्थ्य और आपदा विभाग को अलर्ट कर दिया गया है.

मृतकों के परिवार को 4 लाख का मुआवजा
नीतीश कुमार ने बताया कि मरने वालों के परिवार को 4 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि जिनके मकान को नुकसान पहुंचा है, वे तुरंत जिलाधिकारी को सूचना दें और अधिकारी इसकी जांच करेंगे.

भूकंप की वजह से बिहार के स्कूलों में तीन दिन पहले मंगलवार से ही गर्मी की छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं. नीतीश ने कहा कि लोग अगर खुले में रहना चाहें तो पार्कों में रात में रहने का का इंतजाम होगा. खुद नीतीश रात में जायजा लेंगे. उन्होंने लोगों से सोशल मीड़िया की अफवाहों पर ध्यान न देने की भी अपील की है.

मंगलवार दोपहर जैसे ही भूकंप आया, लोग बदहवास होकर अपने घरों से निकलने लगे . वहीं प्राइवेट और सरकार दफ्तरों की इमारतें भी खाली हो गईं. सड़कों पर भारी भीड़ एकट्ठा हो गई. हालांकि कुछ देर बाद झटके बंद हो गए और लोगों ने राहत की सांस ली. थोड़ी देर बार फिर हल्के झटके महसूस हुए.

आपको बता दें कि नेपाल में भूकंप की तीव्रता 7.4 और अफगानिस्तान में 6.9 दर्ज की गई. भारतीय एंबेसी ने राहत और बचाव कार्य से संबंधित नेपाल में हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं-

(+977) 9851107021
(+977) 9851135141

इन शहरों में ये रहा भूकंप का असर
- कटिहार के लोगों ने भी जोरदार भूकंप के झटके महसूस किए. पूरे शहर के लोग घर से बाहर सड़क पर निकल गए. लोगों ने टेलीफोन के पोल हिलते, गैस सिलिंडर हिलते और पानी भरी बाल्टी को भी हिलते देखा.
- पूर्वी चंपारण में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए. पहला झटका दिन में करीब 12:38 पर लगा, जबकि दूसरी करीब 1:09 पर महसूस किया गया. भूकंप आते ही लोग घरों और कार्यालयों से बाहर निकल आए. सड़कों पर लोगों की भीड़ जमा हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें