scorecardresearch
 

Fact Check: Bangladesh हिंसा में मारे गए ISKCON के साधु की नहीं है ये तस्वीर

Fact Check: Bangladesh हिंसा में मारे गए ISKCON के साधु की नहीं है ये तस्वीर

सफेद टोपी पहने कुछ लोगों को साधु की वेशभूषा में खाना परोसते एक शख्स की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. ऐसा कहा जा रहा है कि ये इस्कॉन मंदिर के स्वामी निताई दास हैं जो कभी मुस्लिमों को इफ्तारी कराते थे. हाल ही में इनकी बांग्लादेश में हत्या कर दी गई. बांग्लादेश में 15 अक्टूबर 2021 को एक दुर्गापूजा पंडाल में कुरान का अपमान किए जाने की अफवाह फैलने के बाद वहां के मंदिरों और हिंदुओं पर हमले शुरू हो गए थे. हिंसा की इन घटनाओं में अब तक कई जानें जा चुकी हैं और कई घायल हैं. इन्हीं घटनाओं से जोड़ते हुए एक फेसबुक यूजर ने मुस्लिमों को खाना परोसते शख्स की तस्वीर शेयर की और लिखा कि ये है इस्कॉन मंदिर के स्वामी निताई दास. रमजान में रोजा इफ्तारी करवाते हुए. बांग्लादेश मे कल इनकी नृशंस हत्या इन्ही शांतिप्रिय लोगों ने कर दी. यहां भाईचारा का मतलब भाईजान का चारा है जो इस बार निताई दास जी बने हैं. इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर में दिख रहा शख्स जिंदा है. देखे पूरा वीडियो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें