scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: यूपी के दिल में कांग्रेस हो न हो, असल में ये पोस्टर ममता दीदी का है

सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है जिसके जरिए ये कहा जा रहा है कि यूपी में हिंदू-मुस्लिम एकजुट होकर कांग्रेस का समर्थन कर रहे हैं.

यूपी के दिल में कांग्रेस हो न हो, असल में ये पोस्टर ममता दीदी का है. यूपी के दिल में कांग्रेस हो न हो, असल में ये पोस्टर ममता दीदी का है.

सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है जिसके जरिए ये कहा जा रहा है कि यूपी में हिंदू-मुस्लिम एकजुट होकर कांग्रेस का समर्थन कर रहे हैं.

तस्वीर में दो व्यक्ति कांग्रेस का एक पोस्टर पकड़े दिख रहे हैं जिस पर लिखा है "यूपी में आ रही है कांग्रेस". खास बात ये है कि पोस्टर पकड़े एक व्यक्ति ने भगवा रंग के कपड़े पहन रखे हैं वहीं दूसरे ने सफेद कमीज के साथ मुस्लिम टोपी.  

 

यूपी यूथ कांग्रेस के एक वेरीफाइड हैंडल ने इस फोटो को शेयर करते हुए लिखा है कि इस बार यूपी के दिल में सिर्फ कांग्रेस है और राज्य में उनकी सरकार बनने वाली है. 

फोटो इसी मैसेज के साथ फेसबुक  और ट्विटर  पर वायरल हो रही है. वायरल ट्वीट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

फर्जी है ये तस्वीर

इंडिया टुडे ने अपनी जांच में पाया कि वायरल फोटो के साथ छेड़छाड़ की गई है. असली तस्वीर में दोनों लोग पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के समर्थन वाला पोस्टर पकड़े खड़े हैं.

फोटो को रिवर्स सर्च करने पर हमें मूल तस्वीर मिल गई. सामने आया कि इसे पिछले साल हुए बंगाल चुनाव से पहले मार्च की शुरुआत में कई लोगों ने शेयर किया था.

 

शेयर करने वाले लोगों में "Didi Ke Bolo" नाम का एक वेरीफाइड फेसबुक पेज भी था जिसने ये फोटो 2 मार्च 2021 को शेयर की थी. "Didi Ke Bolo" ममता बनर्जी सरकार के एक अभियान का नाम है जिसे बंगाल की जनता की तकलीफों का निवारण करने के लिए शुरू किया गया था.

इसके साथ ही तृणमूल कांग्रेस नेता और सांसद नुसरत जहान ने भी 2 मार्च 2021 को असली फोटो ट्वीट की थी. फोटो के जरिए नुसरत ने बीजेपी आईटी सेल हेड अमित मालवीय पर निशाना साधा था. खोजने पर ये भी सामने आया कि उस समय इससे मिलती-जुलती एक अन्य तस्वीर भी लोगों ने सोशल मीडिया पर शेयर की थी.

 

हालांकि, कहीं पर भी हमें असली फोटो के साथ ये जानकारी नहीं मिली कि ये कहां की तस्वीर है और इसमें दिख रहे लोग कौन हैं. लेकिन दोनों तस्वीरों को मिलाने से ये साफ हो जाता है कि यूथ कांग्रेस द्वारा शेयर की गई फोटो फर्जी है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

ये फोटो इस बात की मिसाल है कि किस तरह यूपी में हिंदू-मुस्लिम एकजुट होकर कांग्रेस का समर्थन कर रहे हैं.

निष्कर्ष

फोटो के साथ छेड़छाड़ की गई है. असली तस्वीर में दोनों लोग पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के समर्थन वाला पोस्टर पकड़े हैं.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×