scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: कोरोना वैक्सीन ट्रायल से जुड़े वीडियो में दिख रही लड़की नहीं है पुतिन की बेटी

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है. वीडियो में दिख रही लड़की पुतिन की बेटी नहीं, बल्कि रूस में कोरोना वैक्सीन ट्रायल के लिए चुनी गई एक वॉलनटियर है.

X
वायरल वीडियो का चित्र वायरल वीडियो का चित्र

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को दावा किया कि उनके देश ने कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन 'Sputnik V' बना ली है. साथ ही पुतिन ने ये भी कहा कि उनकी एक बेटी को भी इस वैक्सीन का डोज दिया गया है और इससे उन्हें कोई खास परेशानी नहीं हुई. महीनों से वैक्सीन का इंतज़ार कर रहे लोगों के लिए ये खबर चौंकाने वाली थी.

इसी के मद्देनजर सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें पीपीई किट पहने एक स्वास्थ्यकर्मी एक लड़की का चेकअप करते हुए दिख रहा है. देखने में ऐसा लगा रहा है कि लड़की को कोई इंजेक्शन देने की तैयारी चल रही है. दावा किया जा रहा है कि ये लड़की व्लादिमीर पुतिन की बेटी हैं, जिन्हें कोरोना वायरस वैक्सीन का पहला डोज दिया जा रहा है.

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है. वीडियो में दिख रही लड़की पुतिन की बेटी नहीं, बल्कि रूस में कोरोना वैक्सीन ट्रायल के लिए चुनी गई एक वॉलनटियर है.

रूस के वैक्सीन बनाने के ऐलान के बाद से इस वीडियो को गलत दावे के साथ खूब शेयर किया जा रहा है. ट्विटर पर भी ये वीडियो जमकर वायरल हो रहा है. पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है.

वीडियो को इन-विड टूल की मदद से रिवर्स सर्च करने पर हमें ये वीडियो और इससे जुड़ी तस्वीरें कई रशियन वेबसाइट्स पर मिलीं. रशियन फोटो बैंक ‘Visualrian.ru ’ पर हमें इस लड़की की कुछ और तस्वीरें मिलीं. ‘Visualrian’ के मुताबिक, इस लड़की का नाम नटालिया है, जो 13 जुलाई को मॉस्को के बरडेंको मिलिट्री हॉस्पिटल में कोरोना वैक्सीन ट्रायल में एक वॉलनटियर के तौर पर शामिल हुई थी.

इससे पहले 26 जून को रशियन न्यूज़ वेबसाइट ‘Zvezda ’ में प्रकाशित हुए एक आर्टिकल में भी नटालिया की एक तस्वीर और वीडियो मौजूद है. नटालिया एक मिलिट्री डॉक्टर बनने की तैयारी कर रही हैं.

रशियन टेलीविज़न नेटवर्क ‘RT ’ के मुताबिक, नटालिया उन 20 लोगों में शामिल थीं, जिनको वैक्सीन का दूसरा कॉम्पोनेंट दिया गया था. इस वैक्सीन को मॉस्को के गामेल्या रिसर्च इंस्टीट्यूट ने रूस के रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर बनाया है. पुतिन के बेटियों का नाम Mariya Putina और Katerina Tikhonova है. दोनों लड़कियों को देखकर भी ये बात साफ हो जाती है कि वीडियो में दिख रही लड़की पुतिन की बेटी नहीं.

1_081220115336.pngPhoto Credit: Rossia 24 और East News/Rex

हमारी पड़ताल में ये बात साबित होती है कि वीडियो में दिख रही लड़की व्लादिमीर पुतिन की बेटी नहीं, बल्कि नटालिया नाम की वॉलनटियर है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटी का एक वीडियो, जिसमें वह कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लेते हुए दिख रही हैं.

निष्कर्ष

पुतिन के मुताबिक उनकी बेटी को भी कोरोना वैक्सीन की डोज दी गई है, लेकिन वीडियो में दिख रही लड़की पुतिन की बेटी नहीं है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें