scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: वायरल वीडियो में पिटता दिख रहा यह शख्स नहीं है बच्चा चोर

सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहें फिर से तेज हो गई हैं. इसी बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किया जा रहा है. वीडियो में कुछ लोग एक व्यक्ति को लाठियों से पीटते दिख रहे हैं.

बच्चा चोर के आरोप में वायर वीडियो से ली गई तस्वीर (Photo- AajTak) बच्चा चोर के आरोप में वायर वीडियो से ली गई तस्वीर (Photo- AajTak)

सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहें फिर से तेज हो गई हैं. इसी बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किया जा रहा है. वीडियो में कुछ लोग एक व्यक्ति को लाठियों से पीटते दिख रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि वीडियो में पिट रहा व्यक्ति बच्चा चोर गिरोह का सदस्य है. घटना उत्तर प्रदेश के अमेठी की बताई जा रही है.

फेसबुक

child-kidnappers-copy_090719064907.jpg

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहा वीडियो अमेठी का जरूर है, लेकिन पिट रहा व्यक्ति बच्चा चोर नहीं बल्कि मजदूर था, जिसे ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझ कर पीट दिया था.

फेसबुक पर वायरल इस वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा जा रहा है: 'लोदीपुर अमेठी धम्मौर पुलिस स्टेशन बच्चे पकड़ने वाले पकड़ा गए हैं जिनको पब्लिक ने बहुत मारा प्रतापगढ़ सप्लाई करते थे डॉक्टर के पास धमोर थाने में बंद हैं, प्लीज शेयर सारे ग्रुप में आप के जितने ग्रुप है उसमें शेयर कीजिया आपका बहुत बहुत शुक्रिया...'

वायरल वीडियो के दावे का सच जानने के लिए हमने अमेठी में हुई इस घटना के बारे में इंटरनेट पर सर्च किया तो हमें कई मीडिया रिपोर्ट्स मिल गईं. इन रिपोर्ट्स के अनुसार घटना अमेठी के पीपरपुर थानाक्षेत्र की है, जहां 1 सितंबर को कुछ मजदूरों को ग्रामीणों ने बच्चा चोरी के शक में इतना पीटा कि इन में से एक की मौत हो गई.

हमें मिली इस मीडिया रिपोर्ट में वायरल वीडियो में पिटते दिख रहे व्यक्ति का वीडियो भी नजर आया.

इस घटना के बारे में जानकारी देते हुए अमेठी पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग ने मीडिया को ब्रीफ किया जिसमें उन्होंने बताया कि इस घटना में करीब 12 लोगों को पीटा गया जिसमें से एक सोनभद्र निवासी सियाराम की मौत हो गई. इस मामले में बच्चा चोरी को लेकर जो अफवाहें आ रही हैं इनमें कोई सत्यता नहीं पाई गई है.

पड़ताल में यह साफ हुआ कि अमेठी में हुई इस घटना में मजदूरों पर बच्चा चोरी का गलत इल्जाम लगाया गया था. पुलिस ने साफतौर पर बच्चा चोरी की अफवाह का खंडन किया है.

फैक्ट चेक

फेसबुक यूजर ‘Sunil Yadav’

दावा

अमेठी में ग्रामीणो ने बच्चा चोरों को पकड़ा.

निष्कर्ष

पुलिस के अनुसार ग्रामीणों ने जिन लोगों के साथ मारपीट की वे बच्चा चोर नहीं थे.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
फेसबुक यूजर ‘Sunil Yadav’
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें