scorecardresearch
 

फैक्ट चेक- योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर के पश्चिम बंगाल में घुसने वाले दावे का क्या है सच?

क्या उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर ने ममता बनर्जी के प्रतिरोध को धता बता कर मंगलवार को पश्चिम बंगाल में प्रवेश किया? 'अमित शाह फैन्स' नाम के फेसबुक पेज ने बुधवार को हेलिकॉप्टर के लैंड होने से जुड़ा एक वीडियो पोस्ट किया. साथ में ये दावा किया गया- 'बंगाल में योगी आदित्यनाथ की हेलिकॉप्टर एंट्री.' इस फेसबुक पेज के पांच लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं.

एक फेसबुक पेज ने दावा किया कि योगी का कॉपर बंगाल में पहुंचा था एक फेसबुक पेज ने दावा किया कि योगी का कॉपर बंगाल में पहुंचा था

क्या उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर ने ममता बनर्जी के प्रतिरोध को धता बता कर मंगलवार को पश्चिम बंगाल में प्रवेश किया? 'अमित शाह फैन्स' नाम के फेसबुक पेज ने बुधवार को हेलिकॉप्टर के लैंड होने से जुड़ा एक वीडियो पोस्ट किया. साथ में ये दावा किया गया- 'बंगाल में योगी आदित्यनाथ की हेलिकॉप्टर एंट्री.' इस फेसबुक पेज के पांच लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं.

इंडिया टुडे फैक्ट चेक (AFWA-एंटी फेक न्यूज वॉर रूम) ने पाया कि ये दावा पूरी तरह झूठा है. योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर ने मंगलवार को बंगाल में प्रवेश ही नहीं किया. ये वायरल वीडियो एक साल पुराना है जब योगी चुनाव प्रचार के लिए त्रिपुरा गए थे.  

तीन मिनट लंबे वीडियो में दिखाया गया है कि हेलिकॉप्टर किसी दूरस्थ गांव में बने अस्थायी हेलीपैड पर उतरता है. फिर योगी बाहर आकर कार से रवाना होते हैं और कुछ बीजेपी समर्थक उनका स्वागत करते हैं. इस पोस्ट को रिपोर्ट लिखे जाने तक 1,500 से अधिक बार शेयर किया जा चुका है और एक लाख से अधिक लोग इस वीडियो को देख चुके हैं.  

वायरल पोस्ट को सही मानते हुए फेसबुक पर कई यूजर्स ने योगी को सराहा कि वे धुर राजनीतिक विरोधी ममता बनर्जी के प्रतिरोध की अनदेखी करते हुए हेलिकॉप्टर से पश्चिम बंगाल पहुंचे.

कुछ मीडिया संस्थानों ने रिपोर्ट किया कि पश्चिम बंगाल सरकार ने योगी के हेलिकॉप्टर को राज्य में कहीं भी लैंडिंग की इजाजत नहीं दी थी, इसलिए योगी सड़क के रास्ते बोकारो से रैली के निर्धारित स्थल पुरूलिया पहुंचे.

वायरल दावे के संदिग्ध प्रतीत होने के कारण हमने वीडियो के एक-एक फ्रेम को बारीकी से देखा. हमने देखा कि योगी आदित्यनाथ वीडियो में जिस कार में दिखे उसकी नंबर प्लेट ‘TR’ से शुरू होती है. ये पश्चिम बंगाल का नहीं बल्कि त्रिपुरा का रजिस्ट्रेशन नंबर है.

 हमने योगी के काफिले में मौजूद पायलट कार और फायर ब्रिगेड वैन पर भी ‘त्रिपुरा’लिखा देखा.

कई समाचारपत्रों की खबरों में हमने पाया कि योगी आदित्यनाथ पिछले साल त्रिपुरा विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के दौरान त्रिपुरा पहुंचे थे. 'द फाइनेंशियल एक्सप्रेस' ने रिपोर्ट किया कि त्रिपुरा के दो दिन के दौरे पर योगी धर्मनगर, कंचनपुर और जुबराजनगर पहुंचे. 

हमने यूट्यूब वीडियो पर कीवर्ड्स 'Yogi Adityanath Dharamnagar copter'के साथ खोज की तो इसी वीडियो को 12 फरवरी 2018 को अपलोड पाया, जिसके साथ कैप्शन में 'Yogi Adityanath in Kanchanpur'लिखा था.

फैक्ट चेक

फेसबुक पेज 'Amit Shah Fans'

दावा

योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर की पश्चिम बंगाल में एंट्री

निष्कर्ष

दावा सही नहीं, ये वीडियो एक साल पुराना है जब योगी ने त्रिपुरा का दौरा किया था.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
फेसबुक पेज 'Amit Shah Fans'
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें