scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: ज्योतिरादित्य सिंधिया के केंद्रीय मंत्री बनने से पहले का है उनके स्वागत का ये वीडियो

कांग्रेस (Congress) छोड़कर बीजेपी (BJP) में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scinida) को हाल ही में नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) कैबिनेट (Cabinet) में नागरिक उड्डयन मंत्री का पद मिला. इसी को ध्यान में रखते हुए सोशल मीडिया (Social Media) पर एक वीडियो वायरल (Video Viral) हो रहा है जिसमें सड़क पर लोगों एक बड़ा हुजूम देखा जा सकता है.

सोशल मीडिया पर ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है. सोशल मीडिया पर ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है.

कांग्रेस (Congress) छोड़कर बीजेपी (BJP) में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को हाल ही में नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) कैबिनेट (Cabinet) में नागरिक उड्डयन मंत्री का पद मिला. इसी को ध्यान में रखते हुए सोशल मीडिया (Social Media) पर एक वीडियो वायरल (Video Viral) हो रहा है जिसमें सड़क पर लोगों एक बड़ा हुजूम देखा जा सकता है. इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि जब केंद्रीय मंत्री बनने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया पहली बार अपने गृह क्षेत्र ग्वालियर आये तो उनका स्वागत कुछ इस तरह हुआ.

वीडियो की शुरुआत में सड़क पर गाड़ियों का एक काफिला निकलते हुए नजर आ रहा है जिसके एक तरफ भारी भीड़ है. कुछ सेकेंड बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया की गाड़ी आती है जिसे लोग घेर लेते हैं और उनसे मिलने के लिए अफरा-तफरी मच जाती है. इसके बाद सिंधिया गाड़ी से बाहर निकलकर लोगों का अभिवादन करते हैं और आगे बढ़ जाते हैं.

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है. ये वीडियो ग्वालियर से सटे मुरैना जिले का है और सितंबर 2020 का है. तब ज्योतिरादित्य सिंधिया केंद्रीय मंत्री नहीं बने थे.

इस वीडियो को फेसबुक पर पोस्ट करते हुए एक यूजर ने लिखा है, "मोदी-मंत्रिमंडल में 'नागरिक-उड्डयन मंत्री' बनने के बाद पहली बार गृह-नगर ग्वालियर पहुंचने पर 'ज्योतिरादित्य सिंधिया जी' के स्वागत को जनता उमड़ पड़ी... देखें, जनता का उत्साह". फेसबुक और ट्विटर  पर और भी कई लोगों ने इसे भ्रामक दावे के साथ शेयर किया है. एक वेरिफाइड यूट्यूब चैनल ने भी इस वीडियो  को हाल-फिलहाल का बताकर अपलोड किया है.

कैसे की पड़ताल?

कुछ कीवर्ड की मदद से खोजने पर सामने आया कि कई फेसबुक और ट्विटर  यूजर्स ने पिछले साल सितंबर में इस वीडियो को जौरा-कैलारस  इलाके का बताकर शेयर किया था. जौरा और कैलारस तहसीलें मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में आती हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया से जुड़े कुछ फैन क्लब्स  ने भी वीडियो  को उस समय जौरा का बताकर साझा किया था.  

 

 

हमें कुछ खबरें भी मिलीं जिससे पता चला कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 12 सितंबर 2020 को एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से साथ मुरैना और इसके आस-पास के इलाकों का दौरा किया था. इस दौरान जौरा-कैलारस के इस क्षेत्र में तीनों नेताओं ने कुछ विकास कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण भी किया था. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस समय उसी रंग का कुर्ता पहन रखा था जैसे की वायरल वीडियो में नजर आ रहा है.


इन सब बातों से ये साबित होता जाता है कि सिंधिया का ये स्वागत 12 सितंबर 2020 को मुरैना जिले के एक इलाके में हुआ था, न कि केंद्रीय मंत्री बनने के बाद ग्वालियर में. साथ ही, हमें ऐसी कोई खबर भी नहीं मिली जिसमें कैबिनेट मंत्री बनने के बाद सिंधिया के ग्वालियर आने का जिक्र हो. अगर ऐसा होता तो इसके बारे में खबरें जरूर होतीं.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे ज्योतिरादित्य सिंधिया का उनके गृह क्षेत्र ग्वालियर में स्वागत हुआ जब वे केंद्रीय मंत्री बनने के बाद पहली बार वहां पहुंचे.

निष्कर्ष

ये वीडियो ग्वालियर से सटे मुरैना जिले का है और सितंबर 2020 का है. इस समय ज्योतिरादित्य सिंधिया केंद्रीय मंत्री नहीं बने थे.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें