scorecardresearch
 

इस साल रिलीज हुई फिल्‍मों में बॉक्‍स ऑफिस पर सिर्फ 'कि‍क' का कमाल

बॉक्स ऑफिस कमाई के लिहाज से यूं तो साल 2014 की शुरुआत काफी अच्‍छी रही, लेकिन पूरे साल पर नजर डालें तो निराशा हाथ लगती है.

Film Kick Film Kick

बॉक्स ऑफिस कमाई के लिहाज से यूं तो साल 2014 की शुरुआत काफी अच्‍छी रही, लेकिन पूरे साल पर नजर डालें तो निराशा हाथ लगती है. फिल्म व्यापार विश्लेषकों का कहना है कि रिलीज हुई करीब 180 फिल्मों में से मात्र सात ही सौ करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर सकीं. महज सलमान खान स्‍टारर 'किक' ने 200 करोड़ रुपये से अधिक कमाए. अब उम्मीदें आमिर खान की 'पीके' से है.

साल के शुरुआती छह से आठ महीनों में टाइगर श्रॉफ की 'हीरोपंती', सिद्धार्थ मल्होत्रा की 'एक विलेन', वरुण धवन की 'मैं तेरा हीरो', आलिया की 'हाईवे' और '2 स्टेट्स' ने बॉक्स ऑफिस को एक अच्छी शुरुआत दिलाई.इन फिल्मों ने न केवल अपनी लागत वसूली, बल्कि मुनाफा भी कमाया.

मल्टीमीडिया कंबाइन्स के राजेश थडानी ने बताया, ' फिल्‍मों के मामले में साल की दूसरी पारी बहुत निराशाजनक थी. अधिकांश फिल्में उम्मीदों पर खरी नहीं उतरीं.' उन्होंने कहा, 'यह साल अब तक बहुत बुरा रहा है.' फिल्म ट्रेड एनालिस्‍ट कोमल नाहटा ने 2014 को औसत साल करार देते हुए बताया, 2014 की शुरुआत बढ़िया थी, लेकिन अखि‍री तक आते-आते गिरावट आ गई. बीते 15-20 सालों में इस साल का नवंबर फिल्म इंडस्‍ट्री के लिए सबसे खराब महीना रहा. 'द शौकीन्स' और 'किल दिल' के साथ-साथ सभी फिल्में पिट गईं.'

थडानी ने कहा, 'किसी को इस तरह के नुकसान की उम्मीद नहीं थी, चूंकि कुछ फिल्मों से बहुत ज्यादा उम्मीदें थीं. यहां तक कि 'एक्शन जैक्सन' भी उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी.' कमाई के लिहाज से खस्ताहाल रहे इस साल में बॉक्स ऑफिस के लिए सात फिल्में राहत लेकर आईं. इनमें 'जय हो' करीब (110 )करोड़ रुपये, 'हॉलीडे : अ सोल्जर इज नेवर ऑफ ड्यूटी' (110 करोड़) , '2 स्टेट्स' (105 करोड़), 'किक' (200 करोड़ से अधिक ), 'बैंग बैंग' (145 करोड़), 'हैप्पी न्यू ईयर' (188 करोड़) और 'सिंघम रिट्नर्स' (140 करोड़ रुपये) शामिल हैं.

इसके अलावा फिल्‍म 'एक विलेन' (96 करोड़) और 'हंप्टी शर्मा की दुल्हनिया' (86 करोड़) ने भी करीब 100 करोड़ रुपये की कमाई दर्ज करवाई. गैइटी गैलेक्सी के मनोज देसाई ने कहा, 'कुछ महिला-केंद्रित फिल्मों ने अच्छा कारोबार किया और यह बेशक एक अच्छा बदलाव है.' मनोज ने कहा कि इस साल जितना नुकसान होना था, हो चुका है. अब सबकी निगाहें 'पीके' पर हैं. उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि महज एक फिल्म पूरे साल की किस्मत बदलने वाली है, लेकिन फिर भी हमें 'पीके' को लेकर उम्‍मीदें हैं.'

इनपुट: IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें