scorecardresearch
 

दिल्ली पर प्रदूषण की मार, खतरनाक स्तर पर पहुंचा AQI

दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी (डीपीसीसी) के आंकड़ों के मुताबिक, आनंद विहार में बुधवार सुबह एयर क्लालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 412 दर्ज किया गया जो खतरनाक श्रेणी में आता है.

ठंड और प्रदूषण की मार से दिल्ली के लोग परेशान (PTI) ठंड और प्रदूषण की मार से दिल्ली के लोग परेशान (PTI)

दिल्ली के अधिकांश इलाकों में हवा की क्वालिटी खराब स्तर पर पहुंच गई है. कई जगह इसे खतरनाक स्तर पर दर्ज किया जा रहा है. कड़ाके की ठंड के साथ हवा की क्वालिटी में लगातार गिरावट लोगों की परेशानी बढ़ा रही है. दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी (डीपीसीसी) के आंकड़ों के मुताबिक, आनंद विहार में बुधवार सुबह एयर क्लालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 412 दर्ज किया गया जो खतरनाक श्रेणी में आता है.

डीपीसीसी ने आरके पुरम में एक्यूआई का स्तर 391 बताया है जो काफी खराब की श्रेणी में आता है. रोहिणी में एक्यूआई 439 दर्ज किया गया जहां आनंद विहार से भी ज्यादा बदतर स्थिति है. रोहिणी में भी एक्यूआई खतरनाक स्तर पर बना हुआ है. हालांकि एक्यूआई में मंगलवार को सुधार देखने को मिला था. दिल्ली की एयर क्वालिटी मंगलवार को 'गंभीर' से सुधरकर 'बहुत खराब' श्रेणी में रही. दिल्ली का एक्यूआई मंगलवार सुबह 300 के स्तर पर रहा, जो 'बहुत खराब' श्रेणी में माना जाता है. वहीं सोमवार को यहां का एक्यूआई 440 तक पहुंच गया था, जो 'गंभीर' श्रेणी में आता है.

एक्यूआई 0-50 के बीच 'अच्छा' माना जाता है, जबकि 51-100 को 'संतोषजनक' की श्रेणी में रखा गया है. इसके अलावा 101-200 को 'मध्यम', 201-300 को 'खराब', 301-400 को 'बहुत खराब' और 401-500 को 'गंभीर' माना जाता है. वहीं 500 से ऊपर एक्यूआई 'गंभीर प्लस' श्रेणी में आता है.

आनंद विहार में एयर क्लालिटी का स्तर काफी खराब हो गया और यहां पर एक्यूआई 412 दर्ज किया गया, जिससे यह गंभीर श्रेणी में आ गया. गाजियाबाद में एक्यूआई 348 और नोएडा में 427 रहा. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के अनुसार, फिलहाल सतह की हवा की गति और वेंटिलेशन में सुधार की संभावना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें